बंगाल चुनाव: ममता बनर्जी के सामने BJP ने उतारा ये कैंडिडेट, जारी की 57 उम्मीदवारों की लिस्ट

पश्चिम बंगाल विधानसभा चु’नाव के लिए भाजपा ने 57 सीटों के लिए उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर दी है। भाजपा ने नंदीग्राम से सुवेंदु अधिकारी को टीएमसी अध्यक्ष और सीएम ममता बनर्जी के खि’लाफ चु’नावी मैदान में उतारा है। पूर्व भारतीय क्रिकेटर अशोक डिंडा, पूर्व IPS अधिकारी भारती घोष को भी उम्मीदवार बनाया गया है।

एक वक्त में सीएम ममता के करीबी रहे सुवेन्दु अधिकारी सीधे तौर पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से चु’नाव में ट’क्कर लेंगे। पार्टी ने शनिवार को इसकी घोषणा की। इससे पहले ममता बनर्जी ने कहा कि वह सुवेंदु अधिकारी की सीट से चु’नाव ल’ड़ेंगी। ममता ने भवानीपुर सीट छो’ड़ने का फैसला किया है।

ममता ने कहा कि उन्होंने अधिकारी द्वारा दी गई चु’नौती को स्वीकार किया है। बंगाल की मुख्यमंत्री ने 27 मार्च से शुरू होने वाले चु’नाव के लिए उम्मीदवारों की घोषणा करते हुए कहा, ‘मैं नंदीग्राम से चु’नाव ल’ड़ूंगी। भवानीपुर सीट से शोभादेव चट्टोपाध्याय चु’नाव ल’ड़ेंगे।’ भाजपा की घोषणा के बाद नंदीग्राम सीट चु’नाव की सबसे महत्वपूर्ण सीट बन गई है।

मालूम हो कि नंदीग्राम सुवेंदु अधिकारी का गढ़ है, जहां उन्होंने ममता बनर्जी को उनका सा’मना करने की चु’नौती दी थी। 2011 चु’नाव में अधिकारी ने नंदीग्राम से वामपंथियों का सूपड़ा साफ करने में अहम भूमिका निभाई थी। जिसके बाद ही 2011 में ममता बनर्जी को सत्ता हासिल हुई थी।

इस हफ्ते, सुवेन्दु अधिकारी ने भाजपा नेतृत्व से कहा था कि वह नंदीग्राम में ममता बनर्जी को “कम से कम 50,000 वो’ट” से हरा’ने के लिए आश्वस्त हैं। सूत्रों के मुताबिक, तृणमूल के शीर्ष चेहरे के खि’लाफ उन्हें मैदान में उतारने का अं’तिम फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर छो’ड़ दिया गया था।

इससे पहले अधिकारी ने ममता बनर्जी द्वारा भाजपा को “बाहरी” कहने पर खुद को मिदनापुर का “बेटा” बताया था। इससे पहले सुवेंदु अधिकारी ममता कैबिनेट में परिवहन और पर्यावरण मंत्री थे। अधिकारी ने दिसंबर में पद छो’ड़ दिया था और अमित शाह की उपस्थिति में भाजपा में शामिल हुए थे। वह 2016 में नंदीग्राम से विधायक चुने गए थे।