योगी के ‘लव जिहाद’ कानून पर सपा का तं’ज – जिन्हें लव का मतलब नहीं मालूम वो …..

कानून (L’ove Ji’had) पर सवाल उठाते हुए समाजवादी पार्टी के नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री अभिषेक मिश्रा (Abhishek Mishra) ने कहा है कि जिन्हें ल’व का मतलब नहीं मालूम, वह ल’व की बात कर रहे और कानू’न बना रहे हैं. साथ ही इस दौरान उन्‍होंने कहा कि इस सरकार में किसान और बेरोजगार युवक परे’शान हैं. जबकि अप’राध के सभी रिकार्ड टूट चुके हैं. वहीं, भाजपा सरकार में बेटियां और महिलाएं असु’रक्षित हैं. जबकि प्रदेश के हर शहर में अप’राध चरम पर है, तो ह’त्या, लू’ट और बला’त्कार की घ’टनाएं हो रही हैं. इस समय उत्‍तर प्रदेश में जं’गलराज की सरकार चल रही है.

‘ल’व जि’हाद’ का’नून पर क’सा तं’ज

इस दौरान समाजवादी पार्टी के नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री अभिषेक मिश्रा ने कहा कि भाजपा सरकार में किसान और बेरो’जगार बहुत ज्यादा परेशान हैं. लोगो को नौकरियां नहीं मिल रही हैं. जबकि ‘ल’व जि’हाद’ कानून को लेकर कहा कि जो लोग ल’व का मतलब नहीं जानते, वह ल’व पर का’नून बनाने की बात कर रहे हैं.

यूपी में अप’राध के सभी रिकॉर्ड टूट चुके हैं और सूबे की सरकार फे’ल साबित हो रही है. इसके अलावा उन्‍होंने कहा कि यूपी की जनता 2022 में अखिलेश यादव के हाथ में सूबे की क’मान सौंपने का कार्य करने वाली है. उन्होंने कहा कि हम लोग समाजवादी सरकार के द्वारा करवाये गए विकास कार्यों को लेकर जनता के बीच जा रहे हैं.

‘ल’व जि’हाद’ पर सरकार स’ख्‍त

देश में ‘ल’व जि’हाद’ को लेकर जारी च’र्चाओं के बीच उत्तर प्रदेश सरकार मंगल’वार को अपनी कैबिनेट बैठक में इसके खिला’फ का’नून पर अं’तिम मुहर लगाने की तैयारी में है. इस म’सले पर योगी सरकार पहले ही अपना रु’ख साफ कर चुकी है कि यूपी में ल’व जि’हाद के नाम पर ध’र्म परि’वर्तन कराने वाले और महिलाओं के साथ अ’त्या’चार करने वालों की खैर नहीं है.

इस बीच उत्तर प्रदेश लॉ कमीशन के प्रमुख न्यायमूर्ति (रिटायर्ड) आदित्यनाथ मित्तल ने कहा है, ‘ल’व जि’हाद पर हमारी रिपोर्ट में अ’वैध ध’र्मां’तरण को रोकने का प्राव’धान है. कोई भी ध’र्मां’तरण गल’त बयानी या किसी प्र’लो’भन के माध्यम से किया गया तो इसे अ’वैध क’रार दिया जाएगा और 3 साल की स’जा होगी.’