लव जे’हाद के खिला’फ योगी सरकार का अध्यादेश पास, 10 साल तक की होगी सजा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई यूपी कैबिनट ने शादी के लिए अवै’ध धर्मांतरण रो’धी का’नून के प्रस्ताव को मंगलवार को मंजूरी दे दी। मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने बताया कि आज उत्तर प्रदेश कैबिनेट  ‘उत्तर प्रदेश विधि विरु’द्ध धर्म समपरिवर्तन प्रति’षेध अध्यादेश 2020’ लेकर आई है। जो उत्तर प्रदेश में का’नून व्यवस्था सामान्य रखने के लिए और महिलाओं को इंसाफ दिलाने के लिए जरूरी है।

बता दें कि यूपी के गृह विभाग ने लव जि’हाद के खिला’फ प्रस्तावित का’नून का मसौदा पहले ही तैयार कर लिया था। इस मसौदे को परीक्षण के लिए विधायी विभाग को भी भेज दिया गया था। हालांकि विभाग ने कानू’न का जो मसौदा तैयार किया है उसमें ‘लव जि’हाद’ शब्द का जिक्र नहीं है।

इसे गै’र का’नूनी ध’र्मां’तरण निरो’धक बि’ल कहा जा रहा है।  मंगलवार की सुबह यूपी कानून आयोग के अध्यक्ष आदित्यनाथ मित्तल ने भी कहा कि दो अलग-अलग धर्म के लोग आपस में शादी कर सकते हैं लेकिन नए कानू’न में व्यवस्था अवै’ध रुप से धर्मांतरण को लेकर है।

इसमें 3 साल, 7 साल और 10 साल की स’जा का प्राव’धान है। नए कानू’न के जरिए अवै’ध रुप से धर्मां’त’रण कर शादी करने पर रो’क लगेगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पिछले दिनों क’थित ‘ल’व जि’हाद के खिला’फ का’नून बनाने का ऐलान किया था।

उत्तर प्रदेश के गृह विभाग ने कानून विभाग को लव जे’हाद के खिला’फ स’ख्त का’नून लाने का प्रस्ताव हाल में भेजा था। स’ख्त का’नून की आवश्यकता पर जोर देते हुए कानून मंत्री बृजेश पाठक ने ‘पी’टीआई-भाषा’ से कहा था, “राज्य में ऐसे मा’मलों में वृद्धि हुई है, जो सामाजिक श’र्मिंद’गी और दु’श्मनी का कारण बने हैं।

इन माम’लों से माहौल ख’राब हो रहा है इसलिए एक स’ख्त कानू’न समय की जरूरत है।  पिछले महीने जौनपुर और देवरिया में हुए उपचुनावों के लिए रैलियों को संबोधित करते हुए, योगी ने कहा था कि उनकी सरकार ‘ल’व जि’हाद’ से निपटने के लिए एक का’नून लेकर आएगी।

इलाहाबाद उच्‍च न्‍यायालय ने अभी हाल में फैसला दिया था कि सिर्फ शादी के लिए ध’र्म परि’वर्तन को स्‍वीकार नहीं किया जा सकता है।

मुख्‍यमंत्री योगी ने अ’दालत के फैसले का स्‍वागत करते हुए कहा कि था, जो लोग नाम छि’पाकर बहू बेटियों की इज्‍ज’त से खिल’वाड़ करते हैं, अगर वे नहीं सुधरे तो रा’म नाम सत्‍’य की उनकी अंतिम यात्रा निकलने वाली है। उन्‍होंने क‍हा था कि ल’व जिहा’द में शामिल लोगों के पोस्‍टर चौ’राहों पर लगाए जाएंगे।