फिल्ममेकर सुभाष घई की मंदिरों से अपील, ‘दान कर दे अपना 90 फ़ीसदी सोना’

बॉलीवुड फिल्ममेकर सुभाष घई ने देश के मंदिरों से अपील की है कि वे कोरोना संकट में अपने 90 फीसदी गोल्ड को दान कर दें, ताकि संकट की इस घड़ी में इसका जनता के हित में इस्तेमाल किया जा सके।

लेकिन, जैसे ही घई ने यह अपील सोशल मीडिया से की तो उन्हें ट्रोल किया जाने लगा। इसके बाद बॉलीवुड के शोमैन कहे जाने वाले घई को सफाई देने के साथ माफी भी मांगनी पड़ी। इसके साथ ही घई की पुराना ट्वीट भी उनके हैंडल से नदारद हो गया है।

अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘मुझे दुख और अफसोस हुआ है कि कुछ लोगों को मेरे ट्वीट के मतलब को गलत समझा गया है। जब मैंने अमीर मंदिरों की बात की है तो इसमें सभी धर्मों के देवाओं के देवालय शामिल हैं। इससे किसी धर्म विशेष का जिक्र नहीं किया है। अगर कोई आहत हुआ है तो मैं उसके लिए माफी मांगता हूं।’

दरअसल, घई ने अपने ट्विटर हैंडल से सवाल उठाया था कि इस कोरोना संकट में मंदिर अपना गोल्ड क्यों नहीं दान में दे देते।

सुभाष घई का ट्वीट कुछ इस तरह है, ‘क्या भगवान के मंदिरों मे जाने का ये सही वक्त नहीं है। जितने अमीर मंदिर हैं और उनके पास बेहद सोना है, उन्हें स्वयं ही सरकार को अपना 90 फीसदी सोना गोल्ड दान कर देना चाहिए। इससे उन गरीबों की सहायता हो सकेगी, जो इस समय मुश्किल में पड़े हैं। मंदिर को भी तो ये जनता ही भगवान के नाम पर देती आई है।’

खास बात यह है कि सुभाष घई ने अपने ट्वीट में पीएमओ को भी टैग किया है।

बता दें कि सुभाष घई केंद्र की मोदी सरकार की नीतियों और कदमों की जमकर सराहना करते रहे हैं। कोरोना संकट में भी वह बराबर सरकार के कदमों को अपने ट्वीट्स के जरिए बढ़ावा देते आ रहे हैं।

दरअसल, बॉलीवुड की कई बड़ी हस्तियां खुलकर मोदी सरकार की नीतियों का बखान करने में जुटी हैं। इनमें अनुपम खेर, कंगना रनौत, अमिताभ बच्चन, विवेक अग्निहोत्री, किरण खेर, परेश रावल और मनोज जोशी आदि।