मक्का में उमराह की मिली इजाजत लेकिन भारत समेत इन देशों के यात्रियों पर बै’न

सऊदी अरब (Saudi Arab) ने बुधवार को को’विड-19 महा’मा’री (C0v’id-19 Pa’nde’mic) के मद्देनजर भारत, ब्राजील और अर्जेंटीना (India-Brazil-argentina) से आने वाली हवाई उड़ानों को निलं’बित कर दिया है. देश के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण के अनुसार इन देशों की 14 दिन पहले की गई यात्रा करने वाले लोगों की देश में आने पर रो’क लगा दी गई है.

नागरिक उड्डयन विभाग ने उन लोगों को इस नियम से बाहर रखा है जिनके पास आधिकारिक सरकारी निमंत्रण हैं. देश की समाचार एजेंसी एसपीए ने एक रिपोर्ट में बताया कि कोरो’नावा’यरस चिंता’ओं के कारण सात महीने के अंतराल के बाद सऊदी अरब सरकार ने 4 अक्टूबर से शुरू होने वाले उमरा तीर्थयात्रा के लिए तीर्थ यात्रियों को देश के अंदर रहने की अनुमति दे दी है. पिछले साल उमरा के लिए 19 लाख लोगों ने की थी यात्रा

उमरा मक्का और मदीना में की जाने वाली एक तीर्थ यात्रा है. पिछले साल 19 लाख लोगों ने यह पवित्र यात्रा की थी. हालांकि इस साल कोरो’ना वाय’रस महा’मा’री के चलते सिर्फ एक हजार लोगों ने यात्रा की. सऊदी अरब ने मार्च में उमरा पर रो’क लगा दी थी. आधिकारिक आंकड़े बताते हैं कि सऊदी अरब एक साल में हज और उमराह से लगभग 12 बिलियन अमरीकी डॉलर की कमाई करता है.

हज के लिए मक्का जा सकेंगे हाजीसऊदी अरब सरकार ने अब इसे कई चरण में खोलने का फैसला किया है. पहले चरण के दौरान 4 अक्टूबर से सिर्फ सऊदी अरब के लोगों को मस्जिद में आने की इजाजत मिलेगी. एक दिन में आने वाले लोगों की संख्या 6 हजार होगी. 18 अक्टूबर से दूसरा फेज शुरू होगा. दूसरे फेज के दौरान भी सिर्फ सऊदी अरब के लोगों को मस्जिद में एंट्री मिलेगी लेकिन इस दौरान कुल 65 हजार लोगों को मस्जिद में आने की इजाजत मिलेगी.

तीसरे फेज में एक नवंबर से सऊदी अरब के बाहर रहने वाले लोगों को भी उमरा के लिए आने की इजाजत मिलेगी. इस दौरान एक दिन में कुल 80 हजार लोगों को यहां आने की इजाजत मिल सकती है.

सीएसएसई(CSSE)के अनुसार दुनिया में कोरोना के सबसे अधिक मामले अमरीका में हैं. कोरो’ना के कुल 6,896,218 मा’मले और 200,786 मौ’तों के साथ अमेरिका सबसे ख’रा’ब स्थिति वाला देश है. वहीं भारत में 5,562,663 माम’लों के साथ दूसरे स्थान पर आता है. भारत में अब तक कोरो’ना महा’मारी’ से 90,020 लोगों की मृ’त्यु हो चुकी है. ब्राज़ील (4,591,364) और अर्जेंटीना (652,174) भी कोरो’ना के कारण बहुत बु’री स्थिति में हैं.