संजय दत्त को हुआ फेफड़े का कैंसर, युवराज सिंह ने कही ये भावुक बात

बॉलिवुड के सीनियर अभिनेता संजय दत्त (Sanjay Dutt Cancer) को फेफड़े (लंग) में कैंसर की पुष्टि हुई है। उनका यह कैंसर स्टेज 3 में है। मंगलवार को संजय दत्त ने अपने फैन्स को इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट कर यह जानकारी दी। संजय दत्त के फैंस के लिए मंगलवार का दिन एक बु’री खबर लेकर आया। संजय दत्त बीते एक-दो दिन से स्वास्थ्य संबंधी कारणों से अस्प’ताल में भ’र्ती थे। जिसके बाद मंगलवार को उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट के जरिए एलान किया कि वो फिल्मों से कुछ समय के लिए ब्रेक ले रहे हैं।

यही सुनकर उनके फैंस का हा’ल बेहा’ल हो गया। इस एलान के कुछ देर बाद ही खबर आई कि संजय दत्त फेफड़े के कैंसर से जू’झ रहे हैं। इस खबर के सामने आने के बाद से  ही फैंस ‘संजू बाबा’ के बेहतर स्वा’स्थय के लिए प्रार्थना कर रहे हैं। इसके साथ ही सभी को भरोसा है कि संजय दत्त कैं’सर को मा’त देकर जल्दी ही फिल्मों में वापसी करेंगे। वैसे बता दें कि संजय दत्त ही ऐसे अभिनेता नहीं जो कैंसर जैसी बीमा’री से जू’झ रहे हैं। ऐसे कई अभिनेता और अभिनेत्रियां हैं जो इस बीमा’री से ल’ड़कर इसे मा’त देकर अब स्वस्थ्य जीवन व्यतीत कर रहे हैं।

इसके बाद पूर्व भारतीय क्रिकेटर युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने संजय दत्त को प्रेरित करने वाला मैसेज किया है। युवराज भी साल 2011 में इस कैंसर से पी’ड़ित थे और उन्होंने इस गं’भीर बीमा’री को हराकर क्रिकेट के मैदान में एक बार फिर जोरदार वापसी की थी।

युवराज सिंह ने अपने टि्वटर पर संजय दत्त को टैग करते हुए लिखा, ‘संजय दत्त आप एक फा’इटर थे, हैं और हमेशा रहोगे। मैं जानता हूं कि इसके कारण कितना दर्द होता है लेकिन मैं यह भी जानता हूं कि आप मजबूत हो और इस मुश्किल घड़ी को पार कर लेंगे। आप जल्दी ठीक हों इसके लिए मेरी प्रार्थनाएं और दुआएं।’

बता दें 8 अगस्त को संजय दत्त को सांस लेने में तकलीफ के चलते मुंबई के लीलावती अस्पताल में भ’र्ती कराया गया था। यहां उनका कोविड- 19 टेस्ट भी किया गया था, जो निगेटिव था। इसके बाद 10 अगस्त को उन्हें हॉस्पिटल से छुट्टी मिल गई थी।

11 अगस्त को फिल्म समीक्षक कोमल नाहता ने टि्वटर पर यह जानकारी साझा कि यह दिग्गज अभिनेता लंग कैंसर से जू’झ रहा है, जो स्टेज 3 में है।युवराज सिंह भी वर्ल्ड कप 2011 के दौरान लंग कैंसर से जू’झ रहे थे। तब कैंसर का एक ट्यू’मर उनके फेफड़े में पल रहा था। युवराज ने वर्ल्ड कप के बाद इस बीमा’री का लंदन में सफल इलाज कराया था।