राकेश टिकैत के काफिले पर हम’ले के बाद उनके भाई ने भरी हुं’कार, कहा- 4 से 17 अप्रैल तक को होने वाली…

किसान नेता राकेश टिकैत की गाड़ियों के का’फिले पर शुक्रवार को राजस्थान के अलवर जिले में कुछ लोगों द्वारा कथित रूप से हम’ला किए जाने का मा’मला अब तूल प’कड़ता जा रहा है। राकेश टिकैत के भाई और भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष नरेश टिकैत ने इस घ’टना को लेकर मुजफ्फरनगर में बैठक की और कहा कि 4 अप्रैल और 17 अप्रैल को होने वाली महापंचायतों में सभी किसान जितना हो सकते उतनी ताकत दिखाएं।

बता दें कि राकेश टिकैत के का’फिले पर अलवर के ततरपुर चौक पर कुछ लोगों ने प’त्थर फेंके थे। इस घ’टना में किसी को चो’ट तो नहीं लगी लेकिन टिकैत की कार का पिछला शीशा क्षतिग्रस्त हो गया। पुलिस ने इस संबंध में एक छात्र नेता के साथ चार लोगों को हि’रासत में भी लिया था।

भारतीय किसान यूनियन का कहना था कि हि’रासत में लिए गए लोग भाजपा से संबद्ध अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) से जुड़े हैं। यूनियन ने आ’रोप लगाया है कि इस हम’ले के पीछे भाजपा है।

इस मा’मले में अब राजनीति भी शुरू हो चुकी है। टिकैत के साथ हुई ‘घटना पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को ट्वीट के जरिए आरो’प लगाया कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक सं’घ (आर’एस’एस) हम’ला करना सिखाता है।

कांग्रेस नेता ने ट्वीट किया, “उनका संघ हम’ला करना सिखाता है, अहिं’सक सत्याग्रह किसान को निडर बनाता है। सं’घ का सामना संग मिलकर करेंगे- तीनों कृषि व देश विरो’धी क़ानू’न वापस कराके ही दम लेंगे!”

इससे पहले माकपा के पूर्व विधायक अमरा राम ने आरो’प लगाया कि भाजपा के इशारे पर एबीवीपी के सदस्यों ने हम’ला किया। वहीं, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट किया, ‘अलवर में भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत के का’फिले पर भाजपा के लोगों द्वारा हम’ला निं’दनीय है।

दोषियों के विरुद्ध का’र्रवाई की जाएगी।’ गहलोत के मुताबिक, ‘भाजपा किसान आं’दोलन की शुरुआत से ही किसानों के हक़ में संघर्ष करने वालों के प्रति अनर्गल बयानबाजी, अलोकतां’त्रिक बर्ता’व कर रही है जो श’र्मनाक है।’