किसान नेता राकेश टिकैत का बड़ा बयान- बंगाल जा रही सरकार, हम भी वहीं…

केंद्र सरकार के कृषि कानून के खि’लाफ किसान 100 से भी ज्यादा दिनों से आं’दोलन कर रहे हैं। इसी बीच विधानसभा चु’नाव के प्रचार के लिए भारतीय जनता पार्टी (BJP) के कई नेता पश्चिम बंगाल गए हुए हैं। इसको लेकर किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा है कि सरकार आजकल पश्चिम बंगाल जा रखी है, हम सरकार से वहीं मिलेंगे।

राकेश टिकैत ने मीडिया से बात करते हुए कहा “आज कल सरकार बाहर घूमने जा रही है, आ जाएगी एकाद महीने में दिल्ली फिर बात करेंगे।” टिकैत ने कहा “आज कल सरकार कोलकाता गई है, हम भी 13 तारीख को पश्चिम बंगाल जाएंगे। बड़ी महापंचायता है वहाँ। सरकार से वहीं मिलेंगे।” किसान नेता ने कहा कि हम वहां जाकर किसानों से बात करेंगे। उनसे पूछेंगे एमएसपी पर खरीद हो रही है या हैं। अपनी बात बताएंगे, इस आं’दोलन के बारे में समझाएंगे, उनकी बात सुनेंगे इससे उन्हें क्या दिक्कत है?

टिकैत ने कहा कि जो किसान वहां मछ्ली पालता है उसे भी बहुत नु’कसान हुआ है। इसके बाद गुजरात भी जाएंगे, वहां का किसान भी बर्बा’द हो गया है। टिकैत ने कहा “मोदी ने ही कहा था अपनी फसल कही भी बेच लो तो अब संसद के बाहर बेचें’गे फसल। पीएम ने कहा था कि आप मंडी के बाहर कहीं पर भी बेंच सकते हो, तो हमें संसद में ठीक लग रहा है वहीं बें’चेंगे।”

टिकैत ने कहा है कि जब तक तीन नए कृषि कानू’न र’द्द नहीं हो जाते, तब तक उनका आं’दोलन जारी रहेगा। किसान नेता ने कहा कि किसानों की मांग है कि तीनों कृषि कानू’न पूरी तरह से वापस लिए जाएं और जब तक सरकार उनकी मांगे नहीं मानती, तब तक आं’दोलन जारी रहेगा।

वहीं भारतीय किसान यूनियन मध्यप्रदेश में आठ मार्च से 15 मार्च के बीच तीन किसान रैलियां करने जा रहा है। मालूम हो कि मध्यप्रदेश के अनूपपुर जिले में वर्ष 2012 में प्रदर्शन के दौरान कथित रूप से दं’गा फै’लाने एवं ह’त्या करने के प्रयास के मा’मले में टिकैत के खि’लाफ गि’रफ्तारी वारं’ट लंबित है।