BJP विधायक की गाड़ी में मिली EVM तो पुण्य प्रसून बाजपेयी ने क’सा तंज, कहा- मैं तो EVM ले जा रहा…

असम विधानसभा चु’नाव के बीच बीजेपी विधायक की गाड़ी से ईवीएम मिलने की घ’टना पर राजनीतिक हलचल और तेज हो गई है। राहुल गांधी, प्रियंका गांधी समेत कई विपक्षी नेताओं ने इस पर बीजेपी पर ज’मकर ह’मला बोला है। राहुल गांधी ने कहा है कि चुनाव आ’योग की गाड़ी ख’राब, बीजेपी की नियत ख’राब और लोकतंत्र की हा’लत खरा’ब। इस मु’द्दे पर सोशल मीडिया पर भी लोग जम’कर लिख रहे हैं। वरिष्ठ पत्रकार पुण्य प्रसून बाजपेयी ने भी इस मु’द्दे पर टिप्पणी की है।

पुण्य प्रसून बाजपेयी ने इस म’सले पर अपने ट्विटर पर व्यंगात्मक अंदाज में लिखा, ‘मैं तो रास्ते से जा रहा था.. ईवीएम ले जा रहा था..तुझको मिर्ची लगी तो मैं क्या करूं?’ बाजपेयी के इस ट्वीट पर यूजर्स की ढे’रों प्रतिक्रिया सामने आ रही है।

स्वामी रामशरणचार्य नाम से एक यूजर लिखते हैं, ‘आतं’कवादी ब्रि’टिश कांग्रेसी ‘संगठनों ने जानबू’झ कर उनकी गाड़ी में मशीन रखी जिसका प्रमाण भी मिल चुका है। ये भाजपा के सभी विधायक और सांसद भी आंख मूं’दकर प्र’चार- प्रसार करते हैं। ये अपने दु’श्मन आतं’कवादी ब्रिटिश कांग्रेसी सं’गठनों से बिलकुल भी सतर्क नहीं रहते।’

संदीप सिंह राजदान नाम से एक यूजर लिखते हैं, ‘बीजेपी कार्यकर्ता तो बस मदद के लिए वहां इ’त्तेफाक से पहुंच गए थे। ऐसा इत्तेफाक जॉली एलएलबी 2 में सिंह साहब के साथ ही होता था या आजकल इलेक्शन कमिशन के साथ हो रहा। बाकी ख’बरदार कोई बोला कि ईवीएम घो’टाला हुआ है – देशद्रो’ही कहलाओगे।’

कमलेश वांखडे नाम के एक यूजर ने लिखा, ‘ईवीएम भी अब आ’त्मनिर्भर बन गई है, जिसकी गाड़ी में मन करता है, वहां जाकर बैठ जाती है।’ ऋतुराज नाम से एक यूजर लिखते हैं, ‘फिर तो हर जगह बीजेपी की ही सरकार बननी चाहिए। पर हर जगह तो बीजेपी नहीं है।’

चु’नाव आयोग ने इस पूरे मा’मले पर कहा है कि निर्वाचन अधिकारी की गाड़ी खरा’ब हो गई थी जिसके बाद अधिकारी ने बीजेपी प्रत्याशी से लिफ्ट लिया था। चु’नाव आयोग को जिला निर्वाचन अधिकारी ने जो रिपोर्ट भेजी है उसमें बताया है कि निर्वाचन अधिकारी को जानकारी नहीं थी कि गाड़ी बी’जेपी नेता की है।

इस घ’टना के सामने आने के बाद चु’नाव आयोग ने असम के रतबारी विधानसभा क्षेत्र के एक मतदान केंद्र पर दोबारा मतदान करवाने के आदेश दिए हैं। चु’नाव आयोग ने इस मामले से संबंधित निर्वाचन अधिकारी और 3 अन्य अधिकारियों को निलं’बित कर दिया है