प्रधानमंत्री जैसी होगी CM योगी की सुरक्षा, इस वजह से हो रहा है बदलाव

सूबे के मुखिया और देश के सबसे लोकप्रिय नेताओं में से एक योगी आदित्यनाथ को लगातार धम’कियां मिलती रहती हैं. योगी की सुरक्षा-व्यवस्था को लेकर एजेंसियां भी कई बार आ’तंकी हम’ले का अलर्ट भी जारी कर चुकी है.

यही वजह है कि अब उनकी सुरक्षा को लेकर यूपी सरकार कोई कोताही नहीं बरतना चाहती है. सीएम योगी की सुरक्षा को और चाक-चौबं’द करने का फैसला किया गया है. दरअसल, अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा की तर्ज पर योगी की सुरक्षा की जाएगी. इसके लिए यूपी कैबिनेट ने शुक्रवार को बाई सर्कुलेशन पास किया है.

बदलेगी अतिरिक्त वाहन की पोजीशन

अब सीएम योगी के काफिले में चलने वाले अतिरिक्त वाहन की पोजीशन बदली जाएगी. दरअसल, अतिरिक्त वाहन इमरजेंसी के लिए रिजर्व रहता है और ये फ्लीट वाहनों के बीच ही चलता है. मौजूदा समय में पीएम मोदी की सुरक्षा में चलने वाले वाहनों में ही अतिरिक्त वाहन की पोजीशन बदली जाती है.

इस खास बदलाव को सीएम योगी की सुरक्षा की ग्रीन बुक में दर्ज किया जाएगा. कहा जा रहा है कि सुरक्षा मुख्यालय के अधिकारियों ने पीएम मोदी की सुरक्षा की ब्लू बुक के अध्ययन किया था जिसके बाद उन्होंने इस बदलाव की सिफारिश की थी. खबर के मुताबिक, इससे पहले साल 2017 में योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा-व्यवस्था के लिए ग्रीन बुक का रिव्यू किया गया था.

सीएम योगी पर आ’तंकी हम’ले के ख’तरे को देखते हुए अक्सर उनकी सुरक्षा की समीक्षा की जाती है. इससे पहले एसपीजी की तर्ज पर अब यूपी में स्पेशल सिक्योरिटी ग्रुप (एसएसजी) का गठन किया गया. एसएसजी में पीएसी और एटीएस के कमांडो शामिल किए गए हैं.