स्वसाथ्य मंत्री हर्षवर्धन सिंह का बयान, कहा- PM मोदी ‘कोरोना यो’द्धा’ की तरह ल’ड़ाई ल’ड़ने के लिए…

कोरोना के बढ़ते प्रको’प के बीच केंद्रीय स्वसाथ्य मंत्री हर्षवर्धन ने एम्स के शीर्ष अधि’कारियों के साथ बै’ठक की. इस बैठक में उन्होंने डॉक्टरों का हौ’सला बढ़ाया और निर्देश दिए. हर्षवर्धन ने कहा, ”बहुत से ऐसे डॉक्टर हैं जो एम्स में दूसरे विभाग में काम करते होंगे. बहुत सी नर्सें भी होंगी जिन्होंने पिछले साल कोविड में सीधे तौर पर काम नहीं किया होगा. बहुत सी हमारी मैनपावर है जिनको ट्रेनिंग देकर हम आज कोविड के इलाज के लिए सक्षम बना सकते हैं.”

उन्होंने कहा कि स्थिति पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नजर बनी हुई है. हर्षवर्धन ने कहा, ”प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वयं एक कोरोना योद्धा की तरह ल’ड़ाई ल’ड़ने के लिए…24 घंटे बैठकें करते हैं. अपने अधिकारियों के साथ बैठक करते हैं. कल उन्होंने मेडिकल प्रोफेशनल, दवा कंपनियों के मालिक के साथ बैठक की. आज वैक्सीन निर्माता से बात करने वाले हैं. टीकाकरण तेजी से चल रहा है. एक मई से बड़े ब’दलाव आने वाले हैं.”

हर्षवर्धन ने कहा कि आज सुबह तक 12,71,00,000 से ज्यादा लोगों को को’रोना वैक्सीन की डोज दी जा चुकी हैं. मृ’त्यु दर 1.18% है जो लगातार क’म हो रही है. परसों देश में 1.93% लोग ICU बेड पर थे तो आज 1.75% हैं. परसो वेंटिलेटर पर 0.40% लोग थे आज भी इतने ही हैं.

आपको बात दे की लगातार सं’क्रमण के मा’मलों में वृद्धि के चलते देश भर की स्वास्थ्य प्रणाली च’रमरा गई है। कोरोना सं’क्रमण के कहर से बि’गड़ते हा’लात को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देशभर के डॉक्टर से वीडियो कांफ्रेंसिंग पर बातचीत की। पीएम मोदी ने डॉक्टरों व चिकित्साकर्मियों द्वारा महा’मा’री से नि’पटने के लिए किए जा रहे कार्यों की सराहना की। उन्होंने कहा कि हमें पहली लहर की तरह ही दूसरी ल’हर पर भी काबू पाना है। डॉक्टर टीकाकरण व महामा’री को लेकर समाज में परिवर्तनकारी भूमिका निभााएं।

प्रधानमंत्री ने शहरों के डॉक्टरों से आग्रह किया कि उन्हें कोविड प्रबंधन का अनुभव है, वे वंचित इलाकों में कोरोना प्रोटाकॉल के पालन के लिए आनलाइन परामर्श व प्रशिक्षण दें। वीडियो कॉन्पफ्रेंसिंग के जरिए की गई बैठक में पीएम ने कोविड-19 व टीकाकरण से संबंधित मसलों पर चर्चा की। उन्होंने महामा’री के दौरान डॉक्टरों, मेडिकल व पैरा मेडिकल स्टाफ द्वारा देश की अमूल्य सेवाओं के लिए उनकी सराहना की।