संबित पात्रा के खिलाफ एक और एफ.आई.आर. दर्ज, बढ़ सकती है मुश्किलें

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा के खिलाफ महाराष्ट्र में यूथ कांग्रेस ने एफआईआर दर्ज कराई है। पात्रा पर पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू और राजीव गांधी पर आ’पत्तिजनक टिप्पणी करने का आ’रोप है। एफआईआर ठाणे जिले के महात्मा फुले पुलिस थाने में दर्ज कराई गई है।

शिकायत में पात्रा के उस बयान पर आपत्ति दर्ज कराई गई है, जो उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया था। उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू और राजीव गांधी के नाम और तस्वीरों का इस्तेमाल किया था।

शिकायत के मुताबिक, पात्रा ने जवाहर लाल नेहरू और राजीव गांधी की तस्वीरों के साथ सोशल मीडिया पर उन पर निराधार आक्षेप लगाए थे और कांग्रेस को बदना’म करने की कोशिश की थी। इससे तमाम भारतीयों की भावनाएं आहत हुईं।

पात्रा ने किया पलटवार

इसके अलावा पात्रा ने ट्वीट किया था , ‘अगर कांग्रेस के वक्त कोरोना आया होता तो 5 हजार करोड़ का मास्क घोटाला, 7 हजार करोड़ का कोरोना टेस्ट किट घोटाला, 20 हजार करोड़ का जवाहर सेनिटाइजर घोटाला और 26 हजार करोड़ का राजीव गांधी वा’यरस रिसर्च घो’टाला सामने आता। यूथ कांग्रेस ने पात्रा के इन बयानों के आधार पर केस दर्ज कराया है।

शिकायत दर्ज कराने वाले कांग्रेस नेता बृजकिशोर पटेल ने ट्वीट कर एफआईआर की जानकारी दी है। पटेल के ट्वीट पर संबित पात्रा ने जवाब भी दिया है। उन्होंने कहा कि यह इंदिरा गांधी का इमरजेंसी नहीं चल रहा है कि इन एफआईआर से कुछ हो जाएगा।

बता दें कि छत्तीसगढ़ के रायपुर जिले में पुलिस ने भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा के खिलाफ विभिन्न समूहों के बीच शत्रुता बढ़ाने के मामले में प्राथमिकी दर्ज की है। रायपुर जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आरिफ शेख ने सोमवार को बताया कि जिले के सिविल लाइंस थाने में पुलिस ने युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष पूर्णचंद्र पाढ़ी की शिकायत पर संबित पात्रा के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

मामले की जांच की जा रही है।  पुलिस के मुताबिक, पाढ़ी ने पुलिस में शिकायत की थी कि पात्रा ने 10 मई को ट्वीट कर दो पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू और राजीव गांधी पर कश्मीर मामले और वर्ष 1984 में हुए सिख विरो’धी दं’गे तथा बोफोर्स घो’टाला को लेकर झूठा आरो’प लगाया था।