रो’हिंग्या मु’सलमानों और बांग्‍लादेशियों को लेकर अमित शाह ने ओवैसी को दिया ये जवाब

हैदराबाद के निकाय चु’नाव के प्रचार-प्रसार में भारतीय जनता पार्टी ने पूरी ताकत झों’क दी है. आखिरी दिन अमित शाह ने मोर्चा संभाला. उन्होंने इस दौरान ओवैसी की पार्टी पर जब’रदस्त हम’ला और रोहिंग्या को लेकर AIMIM के चीफ पर नि’शाना साधा. शाह ने हैदराबाद में रोड शो के दौरान रो’हिंग्या मुसलमानों और बांग्‍लादेशियों  को लेकर एक बड़ा बयान दिया है.

शाह ने कहा, का’र्रवाई पर विपक्षी दल करते हैं हायतौबा

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने असदुद्दीन ओवैसी को करा’रा जवाब देते हुए रोहिंग्या मु’सलमानों को लेकर कहा कि ”जब वे का’र्रवाई करते हैं तो ये विपक्षी पार्टियां हायतौबा करते हैं. उन्होंने कहा कि विपक्षी दल एक बार लिखकर दें कि बांग्लादेशी और रोहिंग्या को नि’काल दें, फिर मैं कुछ करता हूं.

शाह ने तेलंगाना में रोहिंग्या मु’सलमानों और बां’ग्लादेशियों की मौजूदगी को लेकर ओवैसी पर सवा’ल खड़े किए हैं. उन्होंने कहा, ”मैं जब का’र्रवाई करता हूं तो ये लोग (विपक्षी दल) हायतौबा करते हैं. ये लोग एक बार लिखकर दे दें कि बां’ग्लादेशी और रोहिं’ग्या को नि’काल दें फिर मैं करता हूं.’ उन्होंने कहा कि सिर्फ चु’नाव में बात करके कुछ नहीं होता.

जब पार्लियामेंट में ब’हस होती है तब ये क्या करते हैं सारे देश ने देखा है.” दरअसल, AIMIM चीफ ओवैसी ने कहा था कि अगर हैदराबाद में अवै’ध बांग्लादेशी और रोहिंग्या रहते हैं तो अमित शाह का’र्रवाई क्यों नहीं करते. ओवैसी की इसी टिप्पणी का अमित शाह ने जवाब दिया है.

शाह का ओवैसी और टीआरएस से सवाल

शाह ने कहा, ”हम हैदराबाद को वंशवाद से लोकतंत्र की ओर ले जाना चाहते हैं, चाहे ओवैसी साहब की पार्टी हो या TRS हो, सब हमें सवाल करते हैं. मैं इसने पूछना चाहता हूं कि इतने बड़े तेलंगाना में आपको आपके परिवार के अलावा कोई नहीं मिलता है क्या?

क्या किसी में कोई टैलेंट नहीं है?” उन्होंने कहा, ”केसीआर और मजलिस ने 100 दिन की योजना का वादा किया था, इसका हिसाब हैदराबाद की जनता मांगती है. 5 साल में कुछ भी किया हो तो यहां की जनता के सामने रखिए. सिटिजन चार्टर का वादा किया था, उसका क्या हुआ?