तमिलनाडु ओ’पिनियन पो’ल: कांग्रेस-DMK की बन सकती है सरकार, AIADMK-बीजेपी की पा’र्टी का है ये हा’ल

तमिलनाडु में वि’धानसभा की कुल 234 सीटों पर एक चरण में 6 अप्रैल को वो’टिंग होनी है. नतीजे 2 मई को घोषित किए जाएंगे. राज्य में फिलहा’ल आईएडीएमके की सरकार है. इस बार आईएडीएमके और बी’जेपी मिलकर एनडीए गठबंधन के तौर विधानसभा चु’नाव ल’ड़ रही है. एनडीए गठबंधन दा’वा कर रही है कि जनता उसके पक्ष में वो’ट करेगी.

वहीं एमके स्टालिन की डीएमके और कांग्रेस वाले गठबंधन का दा’वा है कि इस बार राज्य की जनता उनके हाथों में बागडोर सौं’प देगी. राज्य में सरकार ब’नाने के लिए 118 सी’टें चाहिए. इस सबके बीच एबीपी न्यूज़ ने सी-वो’टर के साथ मिलकर ताजा ओपिनियन पो’ल किया है और जनता की नब्ज ट’टोलने की कोशिश की है.सर्वे में क्या सामने आया?

यूपीए (कांग्रेस+DMK+अन्य)- 161 से 169 सीटें
एनडीए (AIADMK+बीजेपी+अन्य)- 53 से 61 सीटें
एमएनएम (मक्कल निधि मय्यम)- 2 से 6 सीटें
एएमएमके (अम्मा मक्कल मुनेत्र कझगम)- 1 से 5 सीटें
अन्य- 3 से 7 सीटें
सर्वे के आंकड़ों के मुताबिक, इस बार राज्य में कांग्रेस और डीएमके गठबंधन को बड़ी जीत मिल सकती है. इस गठबंधन को 161 से 169 सीटें मिलने का अनुमान है. वहीं एनडीए गठबंधन को 53 से 61 सीटें मिल सकती हैं. यानी इस बार के चु’नाव में एनडीए को बड़ा झ’टका लगने वाला है.

सर्वे में कमल हासन की पार्टी मक्कल निधि मय्यम कुछ खास प्रदर्श’न करती नहीं दिख पा रही है. कमल हासन की पार्टी दो से छह सीटें मिल सकती हैं. सोमवार को कमल हासन ने कोयंबटूर दक्षिण सीट से अपना नामांकन दाखिल किया.

वहीं वी के शशिकला के भतीजे टीटीवी दिनाकरन की पार्टी अम्मा मक्कल मुनेत्र कझगम (एएमएमके) के खाते में एक से पांच सीटें मिल सकती हैं. एएमएमके अभिनेता से नेता बने विजयकांत के डीएमडीके के साथ चु’नाव ल’ड़ रही है. एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने भी एएमएमके के साथ गठबंधन किया है. सर्वे के मुताबिक, अन्य के खाते में विधानसभा की तीन से सात सीटें जाने का अनुमान है.


वोट शेयर का अंतर?पिछले विधानसभा चु’नाव में एआईएडीएमके को 43.7 फीसदी वो’ट मिले थे. इस बीजेपी और एआईएडीएमके के गठबंधन को 30.6 फीसदी वो’ट मिलने का अनुमान है. यानी करीब 13 फीसदी का नु’कसान हो सकता है.वहीं डीएमके और कांग्रेस के गठबंधन को 39.4 फीसदी सीटें मिली थीं और इस बार उनके सीट शेयर में इजाफा होता दिख रहा है. सर्वे के आंकड़ों के मुताबिक, इस बार के चु’नाव में 4.3 फीसदी वो’ट का फायदा होगा और ये बढ़कर 43.7 फीसदी हो सकता है.

पिछली बार के नतीजे?पिछले विधानसभा चु’नाव में जे जयललिता के नेतृत्व में लगातार दूसरी बार एआईएडीएमके ने जीत दर्ज की थी. ये चु’नाव नतीजे अपने आप में एतिहासिक रहे थे क्योंकि 1984 के बाद पहली बार ऐसा हुआ था जब राज्य में लगातार दूसरी बार किसी पार्टी ने सत्ता में वापस की. 2016 के विधानसभा चु’नाव में एआईएडीएमके ने 135 सीटों पर जीत दर्ज की थी. वहीं कांग्रेस और डीएमके ने गठबंधन में चु’नाव ल’ड़ा था. डीएमके को 88 और कांग्रेस को आठ सीटें मिली थीं. अभिनेता विजयकांत की पार्टी ने 104 सीटों पर चु’नाव ल’ड़ा था और एक भी सीट पर सफलता नहीं मिली. खुद विजयकांत भी चु’नाव हा’र गए थे. बीजेपी ने 188 सीटों पर उम्मीदवार उतारे थे और उसका खाता नहीं खुला था.