ओम प्रकाश राजभर ने बताया, इस तरह ओवैसी बन सकते हैं यूपी के मुख्यमंत्री

अपने बयानों को लेकर हमेशा चर्चा में रहने वाले सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने एक बार फिर अपने बयान से हं’गामा मचा दिया है. ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि अगर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिममीन (AIMIM ) अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी उत्तर प्रदेश के मतदाता बन जाएं तो वह भी यहां के मुख्यमंत्री हो सकते हैं.

यूपी में मुसलमान करीब 20 फीसद: राजभर

ओम प्रकाश राजभर ने दावा करते हुए कहा कि “यूपी में मुसलमान करीब 20 फीसदी हैं. उनकी हिस्सेदारी है तो सत्ता में भी उनकी भागीदारी होनी चाहिए, उनका अधिकार है, मुसलमानों का भी हिस्सा है”.

“क्या मुसलमान होना गु’नाह है?”

उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि ”मुसलमान का बेटा क्यों नहीं मुख्यमंत्री व उप मुख्यमंत्री बन सकता है? क्या मुसलमान होना गु’नाह है?” उन्होंने कहा कि ”अल’गाववाद व पा’किस्तान की बात हमेशा करने वाली महबूबा मुफ्ती से समझौता कर बीजेपी ने जम्मू कश्मीर में सरकार बनाई.”

ओम प्रकाश राजभर AIMIM को 125 सीटें देने को तैयार

ओवैसी की पार्टी से गठबंधन को लेकर ओमप्रकाश राजभर ने कहा था कि ‘भागीदारी संकल्प मोर्चा’ में सीट के बंटवारे को लेकर कोई समस्या नहीं है. उन्होंने कहा है कि वह असदुद्दीन ओवैसी की ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) को 125 सीटें देने को तैयार हैं.

राजभर का ऐलान: ‘हर साल होगा एक नया सीएम’

गौरतलब है कि हाल ही में राजभर ने कहा था कि अगर 2022 के विधानसभा चुनाव में उनकी दस पार्टी भागीदारी संकल्प मोर्चा सत्ता में आती है, तो हर साल एक नया सीएम होगा, जो एक अलग-अलग जा’ति का प्रतिनिधित्व करेगा. उन्होंने कहा कि उन्हें विश्वास है कि उनका मोर्चा सहज बहुमत से जीतेगा.

उन्होंने कहा, ‘मैं यह सुनिश्चित करूंगा कि गरीबों और दलितों के बीच हर प्रमुख जा’ति स’मूह को सत्ता में हिस्सा मिले. मुझे खुद सभी पदों पर रहने और दूसरों को वं’चित करने में कोई दिलचस्पी नहीं है.