मुख़्तार अंसारी को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने दिया ये आदेश !

सुप्रीम कोर्ट ने बहुजन समाज पार्टी के विधायक मुख़्तार अंसारी को पंजाब से उत्तर प्रदेश की जेल में शिफ़्ट करने की इजाज़त दे दी है.यूपी के अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने बताया है कि मु’ख़्तार अंसारी को 2 सप्ताह के अंदर यूपी पुलिस को सौंपा जाएगा.लाइव लॉ वेबसाइट के मुताबिक, कोर्ट उन्हें यूपी के बां’दा जेल में शिफ़्ट करने का आदेश दिया है. कोर्ट ने कहा कि बां’दा जेल अधीक्षक उनकी मेडिकल सुविधाएं की व्यवस्था करेंगे.

 

मुख़्तार अंसारी को पंजाब की रोपड़ जेल से यूपी भेजने के मा’मले में पंजाब सरकार और यूपी सरकार के बीच वि’वाद चल रहा था.मुख़्तार अंसारी पर यूपी के मऊ, ग़ाज़ीपुर, वाराणसी में दर्जनों के’स दर्ज हैं लेकिन वो पिछले दो साल से एक मु’क़दमे के कारण पंजाब की रो’पड़ जेल में बं’द हैं.यूपी सरकार राज्य में दर्ज मा’मलों की सुनवाई के लिए मुख़्तार अंसारी को कोर्ट में पेश करना चाहती थी जबकि पंजाब पुलिस का कहना था कि वो उन्हें इसलिए नहीं भेज सकती क्योंकि उनका स्वास्थ्य इस लायक़ नहीं है.

इसे लेकर यूपी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में एक अर्ज़ी दाख़िल की थी

पंजाब सरकार की ओर से सुप्रीम कोर्ट में ह’लफ़नामा दायर किया गया था जिसमें बताया गया था कि मुख़्तार अंसारी को हाई ब्लड प्रेशर और डायबिटीज़ समेत कई बीमारियां हैं जिनकी वजह से डॉक्टरों ने उन्हें आरा’म करने की सलाह दी है और उन्हें अभी यूपी नहीं भेजा जा सकता.मुख़्तार अंसारी पर अवधे’श राय के ह’त्या की सा’ज़िश रचने के आरो’प हैं जबकि कृष्णानंद राय ह’त्याकां’ड में उन्हें साक्ष्यों के अभाव में विशेष सीबीआई अ’दालत से बरी किया जा चुका है.

जनवरी 2019 में मोहाली के एक बड़े बिल्डर को फ़ोन करके ख़ुद को मुख़्तार अंसारी बताते हुए 10 करोड़ रुपये मांगे गए थे.मोहाली में इसी संदर्भ में एफ़आईआर दर्ज हुई और 24 जनवरी 2019 को पंजाब पुलिस ने मु’ख़्तार अंसारी को यूपी से ले जाकर मो’हाली कोर्ट में पेश किया था जहां उन्हें 14 दिन की न्यायिक हि’रासत में रोपड़ जे’ल भेज दिया गया. तब से यह हि’रासत लगातार बढ़ती जा रही थी.