शर्मनाक : ठंडा खाना मिलने से बो’खलाए सीएम शिवराज ने अफसर को किया बर्खास्त, ब’वाल होने पर दी ये सफाई

मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को ठंडा खाना परोसे जाने के बाद खाद्य निरीक्षक मनीष स्वामी को निलं’बित कर दिया गया। दरअसल 23 सितंबर को शिवराज सिंह चौहान इंदौर पहुंचे थे। इस दौरे के दौरान मुख्यमंत्री को जो खाना परोसा गया था उसके बारे में कहा जा रहा है कि खाने की गुणवत्ता ख’राब थी।

‘एनबीटी’ की रि’पोर्ट के मुताबिक मुख्यमंत्री के इंदौर दौरे के दौरान सीएम निर्धा’रित समय से लेट पहुंचे थे इसलिए उन्हें सड़क मार्ग से भोपाल लौटना पड़ा था। देर होने की वजह से सीएम ने गाड़ी में खाना रखने के आदेश दिए थे। कलेक्टर के निर्देश पर खाद्य निरीक्षक ने सीएम के लिए खाना पैक करवाया था।

इस दौरान ला’परवाही की बात सामने आई है। कहा जा रहा है कि सीएम शिवराज सिंह चौहान का खाना पैक करवाने में प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया गया। कुछ मी’डिया रिपो’र्ट्स के मुताबिक खाना के पैकेट खोलने के बाद सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ना’रा’जगी व्यक्त की थी। खाना बिलकुल ठंडा था। साथ ही रोटियां ठंडी और सूख चुकी थी।

खाद्य निरीक्षक को निलं’बित किये जाने के बाद इस पूरे मा’मले को लेकर मध्य प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर निशा’ना सा’धा। जीतू पटवारी ने कहा कि ‘शिवराज सिंह चौहान खुद को किसान का बेटा बताते हैं लेकिन एक अधिकारी को इसलिए स’स्पें’ड कर दिया जाता है क्योंकि खाना ठंडा था।

आपके राज मे कई लोग भू’खे सो जाते हैं। ये शर्म’नाक है।’ हालांकि अब कहा जा रहा है कि खाद्य निरीक्षक मनीष स्वामी का निलं’बन वापस ले लिया गया है।

एक विज्ञप्ति के जरिए सीएम शिवराज सिंह का बयान सामने आया है। इसमें कहा गया, “मैं एक आम आदमी हूं…सू’खी चपातियां खाने में मुझे कोई सम’स्या नहीं है…मेरे भोजन के लिए किसी अधिकारी के खिला’फ कार्र’वाई करना उचित नहीं लगता…. अगर मुझे जिलों की यात्रा के दौरान असुविधा का सामना करना पड़ता है, तो मैं इसे दिल से नहीं लगाता। ”विज्ञप्ति में कहा गया कि कलेक्टर मनीष सिंह द्वारा खाद्य सुरक्षा अधिकारी मनीष स्वामी निलं’बन के बारे में मुख्यमंत्री को पता चला जिसके बाद उनके निलं’बन को र’द्द कर दिया गया।