एमपी उपचुनाव : कांग्रेस का घोषणा पत्र जारी, कमलनाथ ने किए कोरो’ना पेंशन, क़र्ज़ माफ़ी सहित ये बड़े वादे

बिहार विधानसभा चुनाव के साथ-साथ मध्य प्रदेश में विधानसभा उपचुनाव भी होने हैं। इसके लिए कांग्रेस ने अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया है। इस दौरान कार्यक्रम में राज्य के पूर्व मुख्य मंत्री कमलनाथ, दिग्विजय सिंह और पार्टी के अन्य नेता मौजूद रहे। वचन पत्र में एक बार फिर किसानों की क’र्ज मा’फी की घोषणा की गई है। इसके अलावा COVID-19 से म’रने वालों को पेंशन देने की बात भी कही गई है।

राज्य के पूर्व मुख्य मंत्री कमलनाथ ने वचन पत्र जारी करते हुए कहा कि उन्हें पूरा यकीन है कि कांग्रेस एक बार फिर स’त्ता में लौटेगी। कमलनाथ ने मुख्य मंत्री शिवराज सिंह चौहान पर हम’ला करते हुए कहा कि वे मुझे 15 प्रतिशत कहते हैं लेकिन वे खुद 115 प्रतिशत हैं।

पूर्व सीएम ने कहा कि हमने 2018 के चुनाव पर एक वचनपत्र बनाया था जिसमें 974 वचन दिए थे। इस दौरान 15 महीने कांग्रेस की सरकार रही ढाई महीने आचार संहिता और एक माह सौदेबाजी में गया। हमने इस दौरान 574 वचन पूरे किए थे।

कमलनाथ ने कहा कि हमें किसी से कोई मा’फी नहीं मां’गनी है। हमारी सबसे बड़ी ग’वाह आम जनता है। हमने किसान क’र्ज मा’फ किया, 100 रुपये बिजली दी। कमलनाथ ने बीजेपी पर निशा’ना सा’धते हुए कहा “शिवराज सिंह को जनता ने 15 साल बाद घर बैठाया था, लेकिन इन्होंने सौदेबाजी की और सरकार बना ली। मध्यप्रदेश की जनता शिवराज के चं’गुल में नहीं आने वाली इस बार उपचुनाव में त’मा’चा मा’रेगी। कमलनाथ ने कहा कि शिवराज ने झू’ठी घोषणाओं के अलावा कुछ नहीं किया।

कांग्रेस नेता ने कहा “पिछले सात महीनों में सौ’देबा’जी, नारियल फो’ड़ने, झू’ठी घोषणाओं, शिलान्यास के अलावा शिवराज सिंह चौहान कुछ कह नहीं पा रहे हैं। जब भी कोई चुनाव आता है कभी पा’किस्तान, कभी ची’न की बात सामने आ जाती है ताकि जनता का ध्यान मुड़ जाए।”

कांग्रेस के घोषणपत्र में 52 वचनों की घोषणा की गई है। गौवर्धन सेवा योजना, कोरो’ना से म’रने वालों को पेंशन, किसान कर्जा मा’फ को पूरा करना, बिना ब्याज कर्ज जैसे मुद्दों को इसमें जोड़ा गया है। कमलनाथ ने कहा कि शिवराज ने मध्यप्रदेश का भविष्य चौ’पट किया है। उन्होंने कहा “मुझे विश्वास है कि जनता आने वाले दिनों में इसपर विचार करेगी ताकि मध्यप्रदेश का भविष्य बेहतर हो।”