मोदी कैबिनेट में बेटे वरुण गांधी को शामिल न करने पर माँ मेनका गांधी ने दिया ये बड़ा बयान

बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कैबिनेट का विस्तार हुआ। उत्तर प्रदेश में सात नेताओं की इसमें जगह मिली। अटकलें थीं कि सांसद वरुण गांधी भी मोदी कैबिनेट में शामिल हो सकते हैं, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। शुक्रवार को उनकी मां मेनका गांधी से इस पर उनकी प्रतिक्रिया मांगी गई।

जिसपर उन्होंने कहा कि देश के हर सांसद मंत्री नहीं बन सकते हैं क्योंकि प्रधानमंत्री जी की भी मजबूरी है। वे हर सांसद को मंत्री नहीं बना सकते। पूर्व केंद्रीय मंत्री व सांसद मेनका संजय गांधी शुक्रवार को पीएम केअर्स फण्ड के माध्यम से जिला अस्पताल परिसर में निर्मित किए गए मेडिकल

ऑक्सीजन प्लांट के शुभारंभ के मौके पर पहुंची थीं।

इस दौरान उन्होंने पीलीभीत सांसद वरुण गांधी को मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिलने पर कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने भी धर्म संकट था कि भाजपा के सर्वाधिक सांसद हैं। ऐसे में सभी को मंत्री नहीं बनाया जा सकता। उन्होंने कहा कि मैं निर्णय का स्वागत करती हैं।

पीएम मोदी का आभार व्यक्त किया

सांसद ने कहा कि ऑक्सीजन प्लांट के शुभारंभ किए जाने से सुल्तानपुर के लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रति आभार व्यक्त किया है। इससे पूर्व सांसद गांधी ने विकास भवन में आयोजित दिशा की बैठक की अध्यक्षता करते हुए सुल्तानपुर में किए जा रहे 41 केन्द्रीय कार्यक्रमों की गहन समीक्षा की।

सांसद मेनका संजय गांधी ने विकास कार्यों की समीक्षा करते हुए, विधवा, दिव्यांग एवं वृद्धावस्था पेंशन बनाने के लिए न्याय पंचायत स्तर पर कैंप लगाने का निर्देश जिला अधिकारी को दिया। इस दौरान गांधी ने लंभुआ तहसील क्षेत्र में एक फर्जी विद्यालय संचालन के माध्यम से लाखों रूपये गबन किए जाने के मामले को प्रमुखता से लिया। मेनका गांधी ने जनपद में अवैध रूप से संचालित किए जा रहे 500 आरा मशीनों को तत्काल बंद कराने के निर्देश जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक को दिए हैं।

जब’रन फीस वसूली को लेकर गंभी’र

मेनका गांधी ने नगर के कान्वेंट विद्यालय द्वारा जब’रन फीस वसू’ली के मामले को भी गंभी’रता से लिया है। नगर के सड़कों को चौड़ीकरण किए जाने में वृक्षों की क’टाई के बाद गांधी ने आज जिला प्रशासन के साथ नगर क्षेत्र में 10 हजार महुआ व नीम के पौध रोपण का संकल्प लिया। नगर पालिका की आवंटित दुकानों का किराया बढ़ाए जाने पर सांसद ने कोविड-19 के चलते दुकानदारों को 6 माह का राहत देने के निर्देश नगर पालिका के अधिशाषी अधिकारी को दिए हैं।