राम मंदिर जाने वाले पहले पीएम बने मोदी, आज से पहले कोई प्रधानमंत्री नहीं गए राम लला

अयोध्या में बुधवार को राम मंदिर के लिए हो रहे भूमि पूजन में शामिल हो रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ऐसे पहले प्रधानमंत्री बन गए हैं, जो राम जन्मभूमि जा रहे हैं. प्रधानमंत्री इस समारोह में बहुप्रतीक्षित राम मंदिर निर्माण के लिए मंदिर की आधारशिला रखेंगे. पीएम मोदी के आगमन पर उत्तर प्रदेश सरकार ने बताया कि पीएम मोदी ऐसे पहले प्रधानमंत्री हैं, जो राम जन्मभूमि जा रहे हैं. पीएम मोदी 29 सालों बाद अयोध्या जा रहे हैं.

पीएम बुधवार की सुबह सुबह 9 बजकर 35 मिनट पर रवाना हुए. एयर इंडिया के विमान के जरिए वह लखनऊ पहुंचेंगे और फिर वहां से हेलिकॉप्टर की मदद से अयोध्या पहुंचेंगे. आज के कार्यक्रम के लिए पीएम मोदी ने खास धोती कुर्ता पहना है.उन्होंने भगवा रंग का कुर्ता और धोती पहनी है और इसकी तस्वीर PMO ने शेयर की है.

पीएम मोदी अपनी अयोध्या यात्रा पर भूमि पूजन के पहले हनुमानगढ़ी जाएंगे. वो पहले यहां हनुमानगढ़ी मंदिर जाएंगे, जहां 10 मिनट की पूजा-अर्चना करेंगे. ऐसी मान्यता है कि भगवान हनुमान के आशीर्वाद के बिना भगवान राम का कोई भी काम शुरू नहीं होता है.

भूमि पूजन का शुभ मुहूर्त

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त को दोपहर 12 बजे राम जन्मभूमि परिसर पहुंचेंगे. इसके बाद वह 10 मिनट में रामलला विराजमान का दर्शन-पूजन करेंगे. इसके बाद वह दोपहर को 12 बजकर 44 मिनट और 15 सेकंड पर मंदिर की आधारशिला की स्थापना करेंगे.

मंदिर के लिए कई पवित्रधामों की मिट्टियां और नदियों का पानी लाया जा रहा है. पिछले दिनों विश्व हिंदू परिषद (VHP) का एक प्रतिनिधिमंडल  उत्तराखंड के बद्रीनाथ धाम की मिट्टी और अलकनंदा नदी का पानी लेकर पहुंचा था. इस खास मौके पर देश के कई प्रतिष्ठित संस्थानों ने इसके लिए लड्डू और अन्य प्रसाद सामग्री देने का फैसला किया है. इसमें पटना के महावीर ट्रस्ट की ओर से 1 लाख रघुपति लड्डू बांटने का इंतजाम किया जा रहा है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इससे पूर्व 28 साल पहले 1992 में पहली बार अयोध्या पहुंचे थे. तब वह बीजेपी के तत्कालीन अध्यक्ष डॉ. मुरली मनोहर जोशी के नेतृत्व में निकली तिरंगा यात्रा में उनके सहयोगी के तौर पर अयोध्या पहुंचे थे.