भारत -ची’न त’नाव पर मोदी की चुप्पी पर कांग्रेस ने उठाए सवा’ल, कहा ज़िक्र करने से भी ड’रते …

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को देश की जनता को संबोधित किया. अपने संबोधन में उन्होंने कोरोना वायरस और लॉकडाउन में छूट पर विस्तार से बात की. हालांकि कयास लगाए जा रहे थे कि प्रधानमंत्री मोदी के संबोधन में भारत-ची’न त’नाव पर भी कुछ बातें होंगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. ची’न का जिक्र न होने पर कांग्रेस ने प्रधानमंत्री पर निशा’ना सा’धा और कहा कि ची’न की आ’लो’चना करने वाली बात भूल जाएं, अपने राष्ट्रीय संबोधन में इसका जि’क्र करने से भी ड’रते हैं. कांग्रेस ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का संबोधन कोई सरकारी अधिसूचना हो सकती थी.

कांग्रेस ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक तस्वीर भी लगाई जिसमें चीन’ के बारे में लिखा गया है. तस्वीर पर लिखा है, ची’न भारत की सीमा में 423 मीटर तक घु’सपै’ठ कर गया. कांग्रेस के मुताबिक, 25 जून तक भारतीय सीमा में ची’न के 16 टेंट और टरपॉलिन हैं. ची’न का एक बड़ा शेल्टर है, साथ ही तकरीबन 14 गाड़ियां हैं. कांग्रेस ने पूछा है कि क्या प्रधानमंत्री इसे न’कार सकते हैं? कांग्रेस ने यह भी कहा कि भारत को ऐसे नेता की जरूरत है जो अ’सफलता को स्वीकार करे और उसमें सुधार की गुं’जाइश बची हो. ऐसे नेता की जरूरत न’हीं है जो परेशा’नियों को दर’किना’र करे और उस पर बात करने से बचे.

इसी के साथ कांग्रेस ने यह भी कहा कि जानकर खुशी हुई कि प्रधानमंत्री ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के आग्रह पर गौर किया है जिसमें गरीबों को मुफ्त अनाज देने की योजना को आगे बढ़ाने की मांग की गई थी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संबोधन से पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ची’न से त’नाव और पेट्रोल की बढ़ती कीमतों को लेकर मोदी सरकार को घेरा. राहुल गांधी ने पेट्रोल और डीजल के दामों को लेकर कहा कि पिछले तीन महीने में 22 बार दाम बढ़ाए गए हैं. वहीं, ची’न को लेकर कांग्रेस नेता ने कहा कि पीएम मोदी बताएं कि ची’न की फौ’ज को वो कब और कैसे देश से निकालेंगे.

राहुल गांधी ने ट्वि’टर पर एक वी’डियो साझा किया. पेट्रोल और डीजल के दामों को लेकर राहुल गांधी ने कहा कि पिछले तीन महीने में 22 बार दाम बढ़ाए गए हैं. पिछले तीन महीनों में कोरो’ना ने देश की अर्थव्यवस्था को नु’कसान पहुंचाया. सबसे ज्यादा नु’कसान गरीबों को हुआ.

राहुल गांधी ने कहा कि हमने सुझाव दिया था कि न्याय योजना जैसी योजना लागू करिए. हर परिवार के अकाउंट में 7 हजार रुपये डालिए लेकिन सरकार ने सुझाव नहीं माने. वहीं, ची’न को लेकर राहुल गांधी ने कहा कि हम जानते हैं कि ची’न देश में चार जगह अं’दर बैठा है. आप बताइए ची’न की फौज को कब और कैसे निकालेंगे.