महाराष्ट्र में कोरोना से बि’गड़ती स्थिति के बीच राज्य स्वास्थ्य मंत्री का आया बड़ा बयान

देशभर में चल रहे कोरोना टीकारण के बीच महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे का बड़ा बयान सामने आया है. टोपे ने आज कहा कि प्रदेश में वैक्सीन पर्याप्त डोज नहीं है, लोगों को वैक्सीन की कमी के चलते वापस करना प’ड़ रहा है.

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हमने केंद्र सरकार से मांग की है कि 20 से 40 साल उम्र के लोगों को भी वैक्सीन लगाने की इजाजत दी जाए.राजेश टोपे ने कहा, “अभी हमारे पास 14 लाख वैक्सीन डोज हैं जो तीन दिन में ख’त्म हो जाएंगे. हमने प्रति सप्ताह 40 लाख वैक्सीन की मांग की है. हम यह नहीं कह रहे कि केंद्र हमें वैक्सीन नहीं दे रहा लेकिन वैक्सीन की डिलीवरी बहुत स्लो है.”

कोरोना से जंग को लेकर राज्य की तैयारियों पर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, ”हम पुणे, मुंबई, नासिक और राज्य के दूसरे हिस्सों में बेड बढ़ाने के लिए युद्ध स्तर पर काम कर रहे हैं. रोजोना 12 मीट्रिक टन ऑक्सीजन का उत्पादन होता है और सात टन की खपत हो रही है.

हमने मांग की है कि में पास के राज्यों से मेडिकल ऑक्सीजन की सप्लाई की जाए. अगर जरूरत प’ड़ी तो हम उन उद्योगों को बं’द कर देंगे जो ऑक्सीजन का इस्तेमाल करते हैं लेकिन स्वास्थ्य के लिए ऑक्सीजन की सप्लाई प्रभावित नहीं होने देंगे.”

राजेश टोपे ने कहा, ”महाराष्ट्र में वैक्सीन बर्बा’द होने की दर तीन प्रतिशत है जो राष्ट्रीय औसत से आधी है, राष्ट्रीय औसत छह प्रतिशत है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कोविड के इलाज के लिए इस्तेमाल होने वाली दवा रेमडेसिवर की प्रति डोज कीमत 1100 से 1400 के बीच है. हमें बड़ी मात्रा में रेमडेसिवर दवा भी चाहिए, राज्य में कोरोना इस दवा की 50 हजार डोज की ख’पत है.”

महाराष्ट्र में कोरोना के 55,469 नए मा’मले, 297 और मरीजों की मौ’त

महाराष्ट्र में मंगलवार को कोरोना वायरस सं’क्रमण के 55,469 नए मा’मले सामने आए जिसके बाद कुल मा’मले बढ़कर 31,13,354 हो गए. इसके साथ ही महामा’री से 297 और मरीजों की मौ’त हो गई जिससे मृ’तकों की संख्या 56,330 पर पहुंच गई. स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी. राज्य में अभी कोविड-19 के 4,72,283 मरीज उपचा’राधीन हैं. विभाग की ओर से जारी एक विज्ञप्ति के अनुसार, अब तक 25,83,331 मरीज ठीक हो चुके हैं.