तारकिशोर-रेणु देवी होंगे डिप्टी CM, देखें नीतीश के संभावित मंत्रियों की लिस्ट

नीतीश कुमार आज शाम सातवीं बार बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. राजभवन में पूरी तैयारी कर ली गई है. बिहार के राज्यपाल फागू चौहान नीतीश कुमार को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाएंगे. उनके साथ जेडीयू से विजय चौधरी, विजेंद्र यादव, अशोक चौधरी, मेवालाल चौधरी, शीला मंडल मंत्री पद की शपथ लेंगे.

वहीं बीजेपी की ओर से तारकिशोर प्रसाद, रेणु देवी, अमरेंद्र प्रताप सिंह, मंगल पाण्डेय, रामसूरत राय, रामप्रीत पासवान और जीवेश मिश्रा मंत्री पद की शपथ लेंगे. जेडीयू-बीजेपी के अलावा हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा से संतोष मांझी और विकासशील इंसान पार्टी के मुकेश सहनी भी मंत्री पद की शपथ लेंगे. यानी कि नीतीश कुमार के साथ कुल 14 लोग मंत्री पद की शपथ लेंगे.

बीजेपी के वरिष्ठ नेता और विधायक नंदकिशोर यादव को बिहार विधानसभा का स्पीकर बनाया जा सकता है. नंदकिशोर यादव ने पटना साहिब विधानसभा से लगातार सातवीं बार जीत हासिल की है. नंदकिशोर यादव बिहार बीजेपी के बड़े नेता माने जाते हैं. नंदकिशोर यादव पिछली बार नीतीश कुमार सरकार में पथ निर्माण मंत्री की जिम्मादारी संभाल रहे थे.

इस बार बिहार चुनाव में एनडीए को 125 सीटें मिली हैं, जिनमें सबसे ज्यादा बीजेपी को 74 सीटें मिली हैं. वहीं, जेडीयू को 43, हिंदुस्तान आवाम मोर्चा को चार और विकास इंसाफ पार्टी को चार सीटें मिली हैं. ऐसे में उनकी संख्या के हिसाब से मंत्री पद मिलेगा.

हालांकि महागठबंधन ने इस शपथ ग्रहण का बहि’ष्कार करने का ऐलान किया है. RJD सूत्रों का कहना है कि ये जनादेश नीतीश कुमार के ख़िला’फ़ था और शासनादेश से ये कठपुतली सरकार बनाई जा रही है. RJD जनता के साथ है और जनता की मांग पर तेजस्वी या उनकी पार्टी का कोई नेता आज शपथ ग्रहण में शामिल नहीं होगा.

सीपीआईएमल नेता महबूब आलम को न्योता मिला था, लेकिन उन्होंने भी शपथग्रहण सामारोह से दूरी बनाने का ऐलान किया है.

बीजेपी सांसद गिरिराज सिंह ने कहा है कि आरजेडी को जनादेश का सम्मान करना चाहिए. उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में, लोगों द्वारा दिए गए जनादेश का सम्मान किया जाना चाहिए और उस भूमिका की कसौटी पर खरा उतरना चाहिए जिसके लिए लोगों ने चुना. यह जनादेश राजग के विकास कार्यों के पक्ष में है और जं’गलराज को लौटने से रोकने के लिए है.