हैदराबाद: नगरपालिका चु’नाव से पहले गरमाई सियासत, मोदी-शाह को ओवैसी ने दे डाली ये चुनौती

हैदराबाद की ओल्ड सिटी में इस बार होने वाले नगरपालिका के चु’नाव भी दिलचस्प होने वाले हैं। दरअसल, भाजपा के राज्य और केंद्रीय नेतृत्व के कुछ नेताओं के बयान से यहां माहौ’ल गर्म है। हा’ल ही में तेलंगाना भाजपा के अध्यक्ष बंदी संजय कुमार ने आरो’प लगाया था कि ओल्ड सिटी में पाकिस्तानी, बांग्लादेशी और रोहिंग्या छि’पे बैठे हैं।

कुमार ने कहा था कि अगर भाजपा यहां चु’नाव जीतती है, तो वहां सर्जि’कल स्ट्राइक करेंगे। इस पर AIMIM नेता ओवैसी ने एक बार फिर नि’शाना साधा। ओवैसी ने पूछा कि क्या पीएम मोदी और अमित शाह तब सो रहे थे, जब पाकिस्तानी यहां घु’स आए।

ओवैसी यहीं नहीं रुके। उन्होंने कहा, “अगर पुराने शहर में पाकिस्तानी हैं, तो इसकी जिम्मेदारी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह की है। यह उनकी नाकामी है। मैंने ऐसा कभी नहीं कहा। मैं जानता भी नहीं।” ओवैसी ने चु’नौती देते हुए कहा कि अगर आप (भाजपा) जानती है, तो कल तक पुराने शहर में रह रहे 100 पाकि’स्तानियों के नाम बताएं।

क्या था बंदी संजय कुमार का बयान, जिस पर चढ़ीं ओवैसी की त्योरियां?: बंदी संजय कुमार ने ओल्ड हैदराबाद सिटी में पा’किस्तानी, बांग्लादेशी और रोहिं’ग्याओं के बसे होने का आरो’प लगाते हुए कहा था कि “आप (AIMIM और अन्य विपक्षी दल) घु’सपै’ठियों के अवै’ध वो’टों से ये चु’नाव जीतना चाहते हैं।

ये देश के खि’लाफ है। एक बार हम मेयर का चु’नाव जीत जाएं तो सबको (घु’सपैठियों) बाहर करेंगे।” उन्होंने आगे कहा था कि भाजपा उन लोगों पर भी स्ट्राइक करेगी, जिन्होंने तेलंगाना को अलग-अलग क्षेत्रों में लू’टा है।

इस पर हैदराबाद के पुराने हिस्सों पर द’बदबा रखने वाली असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM और तेलंगाना की सत्तासीन TRS ने भाजपा को आड़े हाथों लिया। ओवैसी ने लद्दाख में चीनी घु’सपैठ का मु’द्दा उठाते हुए कहा, “लद्दाख स्थित गलवान घाटी में चीनियों पर सर्जि’कल स्ट्राइक क्यों नहीं की गई? आप किसपर सर्जि’कल स्ट्राइक करना चाहते हैं? चीनी सेना PLA ने लद्दाख में भारत का 970 किलोमीटर क्षेत्र घे’र लिया है, ये लोग उनका नाम भी नहीं लेते।”