महाराष्ट्र में हुई कोरोना मौ’तों पर पूर्व सीएम फडणवीस ने किया बड़ा खुलासा

पूर्व मुख्यमंत्री और BJP नेता देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने आरो’प लगाया कि महाराष्ट्र सरकार ने कोविड-19 (Covid-19) के कारण हुई कम से कम 950 मौ’तों की जानकारी नहीं दी है जो आईसीएमआर (ICMR) के दिशानिर्देशों का उल्लं’घन है.

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thakrey) को लिखे पत्र में फडणवीस ने कहा, ‘कोविड-19 के कारण (मुंबई में) हुई करीब 950 मौतों की सूचना नहीं है. यह काफी गं’भीर मा’मला है, साथ ही ख’तरनाक भी.’ राज्य सरकार के मुताबिक, कोविड-19 से बु’री तरह प्रभावित मुंबई में 14 जून तक म’रने वालों की संख्या 2182 है.

फडणवीस ने दावा किया कि मुंबई के विभिन्न अस्पतालों में हुई 950 मौ’तों में से 500 के बारे में मृ’त्यु समीक्षा समिति को भी जानकारी नहीं दी गई. महाराष्ट्र विधानसभा में विपक्ष के नेता ने आरो’प लगाए, ‘मृ’त्यु समीक्षा समिति ने 451 मौ’तों को गैर कोविड मौ’त बताया. बहरहाल, भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद् (आईसीएमआर) के दिशानिर्देशों के मुताबिक ये सभी मौ’त कोविड-19 के कारण हुईं.’ उन्होंने कहा कि हम मांग करते हैं कि किसके दबा’व में समिति ने मौ’तों को गैर कोविड-19 मौ’त बताया.

पूर्व मुख्यमंत्री ने पूछा, ‘बृहन्मुंबई नगरपालिका परिषद् (BMC) ने आईसीएमआर के दिशानिर्देशों का पालन करने से इंकार कर दिया है और कुछ मौतों को कोविड-19 के कारण नहीं बताया गया. आईसीएमआर के स्पष्ट दिशानिर्देश के बावजूद मृ’त्यु समीक्षा समिति ने उन मौ’तों को गैर कोविड-19 मौ’त क्यों बताया?’

उन्होंने कहा कि समिति की कार्रवाई न केवल निंदनीय है बल्कि आपरा’धिक प्रकृति की है. उन्होंने कहा, ‘एक और घ’टना है जिसमें मुंबई के विभिन्न अस्पतालों में 500 मौ’तों की जानकारी मृ’त्यु समीक्षा समिति को नहीं भेजी गई. मैं जानना चाहता हूं कि राज्य सरकार क्या कार्रवाई करने जा रही है.’ उन्होंने दोषियों के खि’लाफ क’ड़ी कार्र’वाई की मांग की है.