नदियों में बहते श’वों पर फरहान अख्तर ने किया ये ट्वीट, सरकार से माँगा जवाब

बॉलीवुड अभिनेता फरहान अख्तर (Farhan Akhtar) सोशल मीडिया में अक्सर देश, राजनीति और जनकल्याण आदि से जुड़े अलग-अलग मु’द्दों पर अपनी राय रखते रहते हैं. एक बार फिर से फरहान अख्तर (Farhan Akhtar) ने देश में जारी कोरोना महामा’री के दौरान सिस्टम पर असफल होने का आरो’प अपने ट्वीट के जरिए मढ़ा है.

नदियों में लाशों के बहकर आने और किनारे लगने वाले समाचार को लेकर उन्होंने एक ट्वीट किया है. अपने इस ट्वीट में फरहान अ’ख्तर (Farhan Akhtar Tweet) ने सिस्टम पर सवाल ख’ड़े किए हैं. फरहान अख्तर के इस ट्वीट के सामने आने के बाद ट्विटर यूजर्स भी इस पर ज’मकर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे हैं.

फरहान अख्तर ने अपने इस ट्वीट में लिखा है कि नदियों में बह कर शवों के आने और किनारे पर लगने की खबरें लगातार सामने आ रही हैं और यह निश्चित रूप से दिल तो’ड़ देने वाली है.


एक न एक दिन वायरस जरूर हारेगा, लेकिन इस तरह की विफलता के लिए सिस्टम में जवा’बदेही तो तय होनी ही चाहिए. जब तक यह नहीं होता है, तब तक महामा’री का चैप्टर बं’द नहीं होगा. फरहान अख्तर के इस ट्वीट पर जवाब भी खूब आ रहे हैं.

गौरतलब है कि बीते शनिवार को मुंबई के अं’धेरी स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में कोविड-19 वैक्सीन की पहली डोज लगवाने की जानकारी देने के बाद फरहान अख्तर (Farhan Akhtar) इस बात को लेकर ट्रोल होने लगे थे कि उन्होंने अपनी पहुंच का फायदा उठाते हुए 60 साल से अधिक उम्र वाले लोगों के सेंटर पर टीका लगवाया है. हालांकि, एक्टर ने इसका जवाब देते हुए कहा था कि यहां 45 साल से अधिक लोगों के लिए अब अभियान चल रहा है.