कोरोना प्राकृतिक है या फिर इसे लैब में बनाया गया? अमेरिका के एक्सपर्ट डॉक्टर के इस बयान से म’ची सनसनी

कोरोना महामा’री क्या प्राकृतिक है या फिर इसे लैब में बनाया गया है? ये सवाल अभी भी एक बड़ी पहेली है. इन सवालों के बीच कोरोना सं’कट पर बोलकर दुनिया भर में सुर्खियां बटोरने वाले अमेरिकी एक्सपर्ट डॉ. एंथेनी फाउची ने भी बड़ा बयान दे दिया है. फाउची का कहना है कि कोरोना एक प्राकृतिक बी’मारी है, ये स्वीकार करना आसान नहीं है.

दरअसल, हा’ल ही में एक इंटरव्यू में जब एंथेनी फाउची से सवाल हुआ कि क्या उन्हें भरोसा है कि कोरोना वायरस प्राकृतिक तरीके से ही आया है? इसपर फाउची ने जवाब दिया कि नहीं, मैं इसपर विश्वास नहीं करूंगा. मुझे लगता है इस बात की जांच होनी बाकी है कि चीन में ऐसा क्या हुआ, जिससे कोरोना वायरस आया.

फाउची के मुताबिक, अभी तक जिन्होंने कुछ जांच की है उनके मुताबिक ये किसी जानवर से आया है और फिर इंसानों में फै’ला है. लेकिन ये कुछ और भी हो सकता है. अमेरिकी एक्सपर्ट का कहना है कि अभी हमें इसपर जांच की जरूरत है, ताकि हम वायरस के ओरिजन का पता लगा सकें.

आपको बता दें कि डॉ. फाउची कोरोना संकट की शुरुआत से ही अमेरिका में इस वायरस के खि’लाफ ल’ड़ाई की अगुवाई कर रहे हैं. हालांकि, बीच में डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन के साथ हुए वि’वाद के बीच वह ह’टे थे, लेकिन जो बाइडेन प्रशासन ने फिर उन्हें वापस बुलाया.

बता दें कि कोरोना वायरस को लेकर अभी तक अलग-अलग थ्योरी सामने आ रही हैं. शुरुआत में जहां इस वायरस की वजह एक चमगा’दड़ को बताया गया, बाद में लैब में किया गया एक प्रयोग होने का दावा किया गया तो किसी ने इसे एक बायोलिजिकल ह’थियार के तौर पर माना.विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा कोविड के ओरिजन पर जांच भी बैठाई गई, लेकिन चीन ने उसमें ना के बराबर ही सहयोग किया. हालांकि, अमेरिका समेत दुनिया के कई ताकतवर देश कोविड के पीछे चीन को ही जि’म्मेदार मानते हैं.