कांग्रेस ने इन नेताओ को सौंपी UP चुनावों की कमान, सोनिया गाँधी ने किया ऐलान

Uttar Pradesh Assembly Election 2022- आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारियों को धार देते हुए बुधवार को कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश चुनाव समिति का गठन कर दिया. इस समिति में कुल 38 सदस्य हैं. समिति में पार्टी के तमाम वरिष्ठ नेताओं को जगह दी गई है. इनमें मुख्य रूप से यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू, सलमान खुर्शीद, राजीव शुक्ला, पीएल पुनिया, आरपीएन सिंह और राशिद अल्वी के नाम शामिल हैं.

यह समिति चुनावी रणनीतियां और प्रत्याशियों के चयन की जिम्मेदारी निभाएगी. पार्टी में चुनाव को लेकर अलग-अलग कमेटियों का गठन हो रहा है. इसी क्रम में बुधवार को राष्‍ट्रीय महासचिव केसी वेणुगोपाल ने यूपी कांग्रेस की चुनाव अभियान समिति की घोषणा की. अजय कुमार लल्लू का कहना है कि महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी पूरी क्षमता के साथ आगामी यूपी विधानसभा चुनाव ल’ड़ेगी और शानदार प्रदर्श’न करेगी.

यूपी कांग्रेस की प्रदेश चुनाव समिति

  1. अजय कुमार लल्लू (प्रदेश अध्यक्ष)

2.आराधना मोना मिश्रा

  1. मोहसिना किदवई
  2. सलमान खुर्शीद
  3. निर्मल खत्री
  4. प्रमोद तिवारी
  5. राजीव शुक्ला
  6. पी एल पुनिया
  7. आरपीएन सिंह
  8. विवेक बंसल
  9. प्रदीप जैन आदित्य
  10. प्रदीप माथुर
  11. राजाराम पाल
  12. राजेश मिश्रा
  13. राकेश सचान
  14. बेगम नूर बानो
  15. जफर अली नकवी
  16. हरेंद्र मलिक
  17. राशिद अल्वी
  18. मोहम्मद मुकीम
  19. नसीमुद्दीन सिद्दीकी
  20. आचार्य प्रमोद कृष्णम्
  21. विभाकर शास्त्री
  22. रंजीत सिंह जुदेव
  23. अनुग्रह नारायण सिंह
  24. विनोद चतुर्वेदी
  25. अजय राय
  26. अजय कपूर
  27. संजय कपूर
  28. इमरान मसूद
  29. बृजलाल खाबरी
  30. सुधांशु त्रिपाठी
  31. बी पी सिंह
  32. जितेंद्र बघेल
  33. मसूद अख्तर
  34. नरेश सैनी
  35. सुहैल अंसारी
  36. दीपक सिंह

गौरतलब है कि देश के सबसे बड़े राज्‍य में खुद को मजबूत करने में जुटी कांग्रेस ने नौ अगस्‍त से यूपी के सभी 403 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों में प्रदर्शन शुरू किया है. पार्टी ‘भाजपा गद्दी छोड़ो’ जैसे अक्रामक नारे के साथ मैदान में उतरी है. इसी नारे के सहारे कांग्रेस यूपी की सियासत में फिर से अपना संगठन खड़ा करना चाहती है.

महंगाई, खेती-किसानी और बेरोजगारी जैसे मुद्दों पर कांग्रेस जहां राष्‍ट्रीय स्‍तर पर केंद्र सरकार को घेर रही है वहीं यूपी में भी अपनी राजनीति को नई दिशा देने की कोशिश में जुटी है. चुनाव अभियान समिति की घोषणा कर पार्टी ने अपने रणनीतिकारों को यूपी पर फोकस करने का निर्देश दे दिया है.