RS में हं’गामा: कैमरे का फोकस “चेयर” पर था तो सांसदों ने मोबाइल से बनाया क्लिप, देखें वीडियो

कृषि बिल पर संसद के उच्च सदन में रविवार को जमकर हं’गामा हुआ। वि’पक्षी दलों के सांसद वेल में जा पहुंचे और वि’रोध ज’ताने लगे। हालांकि, इस दौरान RSTV (राज्यसभा टीवी) के कैमरे का फोकस चेयर यानी कि उपसभापति हरिवंश सिंह पर था। ऐसे में सदन में उस दौरान जो हो-ह’ल्ला हुआ, वो असल में प्रसा’रित नहीं हुआ। पर कुछ सांसदों ने उस दौरान पूरे वाकये को अपने मोबाइल पर रिकॉर्ड कर लिया था। बाद में इससे जुड़ा वीडियो सोश’ल मी’डिया पर वा’यरल भी किया गया। खुद AAP सांसद संजय सिंह ने अपने टि्वटर हैंडल से हं’गामे से जु’ड़ी क्लिप टि्व’टर अका’उंट से शेयर की।

साथ ही लिखा था- मोदी सरकार ने किसान भाइयों के “मौ’त के फ़’रमान” पर आज ह’स्ताक्षर किया है। Aam Aadmi Party ने जम’कर वि’रोध किया, पर केंद्र ने लो’कतं’त्र’ गला घों’टकर बिना वोटिंग के सदन में ये “का’ला क़ा’नून” पास कर लिया, ल’ड़ा’ई जारी रहेगी। बाद में संजय सिंह के इस वीडियो को कई यूजर्स, फैंस और फॉलोअर्स ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट पर शेयर और रीट्वीट किया।

देखते ही देखते यह वी’डियो वायरल हो गया। दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने उनके इसी ट्वीट को रीट्वीट करते हुए लिखा- ये सिर्फ़ आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह नहीं बल्कि देश के कि’सान की आवा’ज़ है जो आने वाले वक्त में ता’ना’शा’ही को वा’क़ई मु’र्दा’बाद करके दिखाएगी।’

RSTV के प्रसारण में आसन पर बैठे व्यक्ति पर फोकस था, देखें उस दौरान क्या नजर आयाः MPs द्वारा बनाई गई क्लिप, जो वाय’रल हुई उस’में ये दिखा।

VIDEO: उपसभापति के खिला’फ विप’क्ष का अविश्वास प्रस्ताव नामंजूर:

राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने उपसभापति हरिवंश के खिला’फ वि’पक्ष के अवि’श्वास प्रस्ताव को सोमवार को खा’रिज कर दिया और कहा कि यह उचित प्रारूप में नहीं था।

वहीं, रविवार को सदन में अम’र्यादित आचरण को लेकर वि’पक्ष के आठ सदस्यों को सत्र की शेष अवधि के लिए निलं’बित कर दिया गया। इसके साथ ही नायडू ने कहा कि एक दिन पहले उच्च सदन में कुछ वि’पक्षी सदस्यों का आचरण दु’खद, अस्वी’कार्य और निं’दनीय है तथा सदस्यों को इस संबंध ‘में आ’त्मचिं’तन करना चाहिए।

हंगामे को लेकर 8 सदस्य निलंबितः संसदीय कार्य राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने कल के हंगामे में असंसदीय आचरण को लेकर विपक्ष के आठ सदस्यों को सत्र के शेष समय के लिए निलंबित किए जाने का प्रस्ताव पेश किया। इसे सदन ने ध्वनिमत से मंजूरी प्रदान कर दी। निलंबित किए गए सदस्यों में तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ ब्रायन और डोला सेन, कांगेस के राजीव सातव, सैयद नजीर हुसैन और रिपुन बोरा, आप के संजय सिंह, माकपा के केके रागेश और इलामारम करीम शामिल हैं। फिर भी भी सदन में विपक्षी सदस्यों का हंगामा जारी रहा और सदन की कार्यवाही बार-बार बाधित हुई।