यूपी पंचायत चु’नाव: मुलायम के गढ़ में चाचा शिवपाल का जलवा, निर्विरो’ध इतने सदस्यों ने दर्ज करी जीत

यूपी पंचायत चुनाव 2021 के लिए मतदान होने से पहले ही इटावा के जसवंतनगर में एक ही परिवार के पांच लोग निर्विरोध निर्वाचित हो गए हैं। खास बात यह है कि यह क्षेत्र पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव का गढ़ रहा है, लेकिन यहां जीतने वाले सभी लोग उनके भाई शिवपाल सिंह यादव के करीबी हैं। यहां से शिवपाल यादव विधायक भी हैं।

यूपी के पूर्व सीएम मुलायम सिंह यादव और उनके भाई शिवपाल सिंह यादव के बीच अखिलेश यादव को लेकर कुछ साल पहले कई बार आपसी रिश्तों में क’ड़वाहट आती रही है। बीच में कई बार सुलह के बाद फिर मिलने और अलग होने का दौर भी चला। शिवपाल ने अलग पार्टी भी बना ली थी। इस बीच रिश्ते अब सामान्य हैं तो मुलायम सिंह यादव के गढ़ में शिवपाल खेमे के एक ही परिवार के पांच लोग निर्वि’रोध निर्वाचित हो गए हैं।

जसवंतनगर क्षेत्र के जुगौरा परिवार शिवपाल का बेहद करीबी है। इस परिवार के तीन पीढ़ियों से जुगौरा परिवार ही जीतता रहा है। जसवंतनगर ब्लॉक से निवर्तमान ब्लॉक प्रमुख अनुज यादव ‘मोंटी’ के बाबा, पिता, माता ब्लॉक प्रमुख रह चुके हैं। इस बार महिला सीट होने के कारण अनुज यादव अपनी पत्नी डॉ. अंजली यादव को ख’ड़ा करना चाहते हैं।

फिलहा’ल यहां से निवर्तमान ब्लॉक प्रमुख अनुज ‘मोंटी’ कोकावली वार्ड संख्या 65 से, उनकी पत्नी डॉक्टर अंजली यादव जुगौरा वार्ड नं.- 66, पिता डॉ. ब्रजेश चंद्र यादव भीखनपुर वार्ड नं.-68, मां संतोष यादव झलोखर वार्ड नं.-80, चाचा राजपाल यादव अण्डावली वार्ड नं.-64 से क्षेत्र पंचायत सदस्य निर्वाचित हुए हैं।

अब यहां एक ही परिवार के कई लोगों के निर्वाचित हो जाने से यह तय माना जा रहा है कि ब्लॉक प्रमुख का पद फिर इसी परिवार में रहेगा।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चु’नाव का “सेमीफाइनल” माने जा रहे पंचायत चु’नाव के पहले चरण के तहत बृहस्पतिवार को 18 जिलों में 2.21 लाख से ज्यादा पदों के लिए मतदान होगा। राज्य निर्वाचन आयोग कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक मतदान सुबह सात बजे से शुरू होकर शाम छह बजे तक चलेगा। जिला पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य, ग्राम प्रधान और ग्राम पंचायत वार्ड सदस्य के 2.21 लाख से अधिक पदों के लिए 3.33 लाख से ज्यादा उम्मीदवार मैदान में हैं।

चार चरणों में होने वाले चु’नाव के पहले चरण में अयोध्या, आगरा, कानपुर, गाजियाबाद, गोरखपुर, जौनपुर, झांसी, प्रयागराज, बरेली, भदोही, महोबा, रामपुर, रायबरेली, श्रावस्ती, संत कबीर नगर, सहारनपुर, हरदोई और हाथरस जिलों में मतदान होगा।