आगरा: ताजमहल में हिं’दूवादी संगठन के युवकों ने फहराया भ’गवा झंडा, म’चा हं’गामा

दशहरे के दिन ताजमहल में कुछ हिं’दूवा’दी युवक पु’ख्ता सुर’क्षा व्यवस्था को च’क’मा देकर भ’गवा ध्वज लहराने के साथ ही शिव चालीसा पढ़ने में कामयाब रहे. इसका वीडि’यो सो’शल मी’डिया में वाय’रल होते ही हं’गामा म’च गया. झंडा लहराते समय सी’आइए’सए’फ जवानों ने युवकों को पकड़ा भी था, लेकिन बाद में उन्हें पूछ’ताछ के बाद छोड़ दिया गया.

सीआइ’एस’एफ संभालती है सुर’क्षा का जिम्मा

ताजमहल की सुरक्षा व्यवस्था का जिम्मा सी’आइएसए’फ संभालती है. कोरो’ना काल में पर्यटकों की स्पर्श मु’क्त सुर’क्षा जां’च की जा रही है. इसके चलते हिं’दू जा’गरण मं’च के कार्यकर्ता रविवार को ताजमहल में शिव चालीसा और भ’गवा ध्वज लेकर प्रवेश कर गए. उन्होंने स्मारक में शिव चाली’सा का पाठ किया और उसके बाद पार्क में लगी बें’च के पास खड़े होकर भग’वा ध्वज लहराया.

वीडियो सो’शल मी’डिया में वाय’रल

भ’गवा ध्वज लहराते युवकों को सीआ’इएस’एफ जवानों ने पकड़ने के बाद पूछ’ताछ कर छोड़ दिया था. इसका वी’डियो सो’शल मी’डिया में वा’यरल हो रहा है. वाय’रल वीडियो में भ’ग’वा ध्वज लहराने वाले युवक की पहचान हिं’दू जा’गरण मंच (युवा) के जिलाध्यक्ष गौरव ठाकुर के रूप में हुई है.

जांच जरूरी है

गौरव ठाकुर के मुताबिक वो दोपहर में ताजमहल गए थे. ये शि’व मंदिर ते’जो महालय है इसलिए उन्होंने वहां शिव चालीसा का पाठ कर भ’गवा ध्वज लहराया. कई नेता वर्षों से इसे शिव मंदिर कह रहे हैं. बड़ा क’ष्ट होता है कि इसकी नि’ष्पक्ष जां’च नहीं कराई गई है. इसकी जां’च कराना जरूरी है.

कही जां’च की बात

‘सीआइए’सएफ कमांडेंट राहुल यादव ने वायर’ल हुए वी’डियो की जां’च की बात कही है. उन्होंने कहा कि जां’च के बाद ही कुछ बयान देने की स्थिति में होंगे.

पहले भी ताज में लहराया गया है भ’ग’वा

ताजमहल में भ’गवा ध्व’ज लहराने का ये कोई पहला मा’मला नहीं है. इससे पहले भी ताजमहल में समय-समय पर हिं’दू संग’ठनों के कार्य’कर्ताओं ने भ’गवा ध्व’ज लह’राया है.