बॉलीवुड के इस दिग्गज फिल्म निर्माता ने कहा: ‘मुग़ल असली राष्ट्र निर्माता थे, उन्हें गलत तरीके से….’

फिल्म निर्माता कबीर खान ने 2006 में जॉन अब्राहम की फिल्म काबुल एक्सप्रेस से अपना करियर शुरू किया था। तब से लेकर अब तक कबीर खान ने बजरंगी भाईजान, एक था टाइगर जैसी हिट फिल्मों का निर्माण किया। हाल ही में कबीर खान ने देश में मुगलों पर हो रही राजनीति पर बयान दिया है। कबीर खान का मानना है कि मुगल असली राष्ट्र-निर्माता थे।’ हालांकि ये लंबी बहस का विषय है।

कुछ ऐसा था मुगल साम्राज्य

मुगल साम्राज्य (1526) की स्थापना बाबर ने पानीपत की पहली लड़ाई में इब्राहिम लोदी को हराकर की थी। अधिकतर मुगल शासक तुर्क और सुन्नी मुसलमान थे। बाबर का उत्तराधिकारी हुमायूं हुआ। उसके बाद अकबर आया, उसके बाद उसका पुत्र जहांगीर, उसके बाद शाहजहां और फिर औरंगजेब था।

अंतिम मुगल शासक बहादुर शाह जफर थे। औरंगजेब को क्रूर शासक के तौर पर जाना जाता है। उसने राजगद्दी हथियाने के लिए अपने पिता शाहजहां को कैद करा दिया था। इतिहासकार कहते हैं कि औरंगजेब ने अपने शासनकाल में हिंदुस्तान की जनता पर क्रूरतम अत्याचार किए। वहीं दूसरी तरफ मुगल बादशाह बहादुर शाह जफर की हिंदुस्तान से मोहब्बत को कौन नहीं जानता।

कबीर खान ने एक इंटरव्यू में कहा है, ‘मुझे इस तरह की फिल्में बहुत परेशान करती हैं क्योंकि ये सब ये पॉपुलर सोच को ध्यान में रखकर बनाई जा रही हैं। मेरा मानना है किसी भी चीज को दिखाने का सबका अलग नजरिया हो सकता है लेकिन जब आप मुगलों को गलत दिखाना चाहते हैं तो उसे बताइए कि आखिर वो गलत कैसे थे।

कबीर खान ने आगे कहा, अगर आपने इतिहास पढ़ा है तो ये समझना मुश्किल होगा कि आखिर उन्हें विलेन के तौर पर क्यों दिखाया जा रहा है। मुझे लगता है कि वो (Mughals) लोग तो असली राष्ट्र-निर्माता थे और उन्हें हत्यारा किस आधार पर दिखाया जा रहा है। इसपर एक खुली बहस होनी चाहिए।

कबीर खान ने आगे कहा, ‘अब सबसे आसान तरीका है मुगलों को और मुस्लिम शासकों को बुरा दिखाना। ये सब बहुत परेशान करने वाला है। हालांकि ये मेरे निजी विचार हैं और मैं एक बहुत बड़े समुदाय के लिए नहीं बोल सकता, लेकिन हां मैं फिल्मों में इस तरह की चीजों से परेशान हूं।’

‘न्यूयॉर्क’, ‘एक था टाइगर’ और ‘बजरंजी भाईजान’ जैसी फिल्में बना चुके कबीर खान ने अपने करियर की शुरुआत एक डॉक्यूमेंट्री फिल्ममेकर के तौर पर की थी। जल्द ही वो रणवीर सिंह के साथ 83 लेकर आने वाले हैं। इस फिल्म की शूटिंग पूरी हो चुकी है।