बीजेपी ने असम में जारी किया घोषणापत्र- सही NRC का वादा, CAA को लेकर…

असम और पश्चिम बंगाल समेत देश के पांच राज्यों में विधा’नसभा चु’नाव होने हैं। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मंगलवार को असम विधानसभा चु’नाव के लिए अपना संकल्प पत्र जारी कर दिया है। भाजपा ने असम के लिए जारी अपने घोषणापत्र में दो लाख यु’वाओं को सरकारी और आठ लाख युवाओं को निजी क्षेत्रों में नौकरी देने का वा’दा किया है। साथ ही सुप्रीम कोर्ट के आदेश के तहत एनआरसी को ला’गू करने का वादा भी किया है।

1951 के NRC को असम समझौते के तहत असम में NRC का अद्यतन किया गया था, जिसके अनुसार 24 मार्च, 1971 की आधी रात के बाद असम में प्रवेश करने वाले अवै’ध अप्रवासियों का पता लगाया और निर्वासित किया जाना है। इस कट-ऑफ की तारीख के आधार पर NRC अपडेट किया गया था।

31 अगस्त, 2019 को प्रकाशित NRC के अं’तिम मसौदे में दस्तावेज़ के 3.30 करोड़ आवेदकों में से 19.06 लाख बाहर थे। एनआरसी से किसी भी राजनीतिक दल या संगठन को ख़ुशी नहीं मिल पाई क्योंकि कई स्वदेशी लोग इसे सूची में बनाने में वि’फल रहे।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने घोषणापत्र जारी करते हुए कहा कि असम में फिर से भाजपा शासित सरकार बनने पर घु’सपै’ठियों को बाहर करने के लिए सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक एनआरसी लागू किया जाएगा। साथ ही राज्य में उद्योगों को ब’ढ़ावा दिया जाएगा। जेपी नड्डा ने कहा कि पांच साल पहले असम में कई तरह चुनौ’तियां थीं, जिनका सामना एनडीए की सरकार ने किया है। एनडीए ने समस्याओं का निराकरण कर के असम को विकास की ओर अग्रसर किया है।

भाजपा के चु’नावी वादे

असमवासियों को बाढ़ की समस्या से निजात दिलाने के लिए हमारी सरकार ब्रह्मपुत्र नदी के आसपास बड़े जलाशयों का निर्माण किया जाएगा।

ओरुनोदोई योजना के तहत 30 लाख परिवारों को प्रतिमाह 3,000 रुपये की आर्थिक मदद की जाएगी

दो लाख युवाओं को सरकारी नौकरी और आठ लाख को निजी क्षेत्र में नौकरी देने का वादा किया

घु’सपै’ठियों को बाहर करने के लिए सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक एनआरसी लागू किया जाएगा

राज्य में उद्योगों को बढ़ावा दिया जाएगा

मिशन शिशु उन्नयन : बच्चों की अच्छी शिक्षा के लिए हम प्रतिबद्ध हैं। बच्चों को उच्च गुणत्ता पूर्ण शिक्षा निशुल्क दी जाएगी।

आठवीं कक्षा के बाद की छात्राओं को हम साइकिल दी जाएगी, जिससे ड्राप आउट रो’क सकेंगे।