बेबस हुई यूपी पुलिस, बीजेपी MLA के सामने हाथ जोड़कर एसपी ने कहा: ‘मुझे थ’प्पड़ मा’रा है, ब’म लेकर…’

इटावा के बढ़पुरा ब्लॉ’क में फा’यरिंग व पथ’राव की घटना के बाद एसपी सिटी प्रशांत कुमार प्रसाद का एक वीडियो सोशल मीडिया जमकर वा’यरल हो रहा है। इसमें वह विभाग के आला अफसरों को मोबाइल पर बता रहे हैं कि सर मुझे भी थप्प’ड़ मा’रा है। ये ब’म लेकर आए हैं, पत्थर भी च’लाए हैं।

भाजपा विधायक से हाथ जोड़कर भीड़ को हटाने के लिए भी कह रहे हैं। सिर पर हेलमेट लगाए हुए एसपी का कहना है कि अचानक भीड़ के रूप में आए भाजपा समर्थकों ने उन्हें थ’प्पड़ मा’रा है। उन्होंने कई जनप्रति’निधियों का भी नाम लिया।

हालांकि, हम इस वीडियो की पुष्टि नहीं करते है। बढ़पुरा ब्लाक में शनिवार की सुबह से ही वोटों को लेकर सपा-भाजपा वालों में रस्सा’कसी चल रही थी। भाजपा प्रत्याशी गणेश राजपूत के पक्ष सुबह ही वोट पड़ना प्रारंभ गए थे। उसके बाद सपा प्रत्याशी आनंद यादव उर्फ टंटी के समर्थक बीडीसी मतदान केंद्र आने लगे।

दोपहर एक बजे करीब उनके दो दर्जन समर्थक रह गए थे। इसी बीच भाजपा के लोगों में चुनाव हा’रने की आशंका पनपने लगी। इसी दौरान किसी ने ब्लाक कार्यालय से बाहर आकर कह दिया कि केंद्र के भीतर सपा समर्थक भाजपा समर्थक क्षेत्र पंचायत सदस्यों को धमका रहे हैं।

यह सूचना ब्लॉक परिसर के पीछे खड़े लोगों तक पहुंची, तो लोग 500 मीटर की दूरी पर लगाए गए अस्थाई बैरियर के नजदीक पहुंच गए। बैरियर तोड़कर भीतर आ गए। 200 मीटर पर लगी बैरीकेडिंग पर पहुंची, तो पुलिस ने वहां पर रोक दिया।

इसी जगह पर एसपी से उनका झ’गड़ा हो गया। उसके बाद फायरिंग शुरू हो गई। इससे पूर्व सपा प्रत्याशी आनंद यादव टंटी की पत्नी निशा यादव ने आ’रोप लगाया था कि उनके सदस्यों को वोट न डालने देने के लिए अंदर आने नहीं दिया जा रहा है। जगह-जगह उन्हें रोका जा रहा है। यह ठीक नहीं है।

इसी दौरान भाजपा विधायक सरिता भदौरिया भी वहां पहुंच गईं। उन्होंने जब कारण पूछा तो एसपी ने बताया कि किसी ने उन्हें थ’प्पड़ मा’रा है। लोग बम लेकर आए हैं। इस पर विधायक के साथ मौजूद एक व्यक्ति कहता है कि ये सब आप ही क’रा रहे हैं। किसी ने नहीं मा’रा है। इसपर एसपी कहते हैं आप इन लोगों को यहां से हटा लीजिए। जिसके बाद उस व्यक्ति के कहने के बाद भी’ड़ वहां से जाने लगती है।