बिहार में जश्न बना मा’तम : शादी के अगले दिन दुल्हे की मौ’त, हलवाई समेत 111 कोरो’ना सं”क्रमित

बिहार में एक शादी समारोह के मा’मले ने प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की परे’शानी को बढ़ा दिया है. शादी में शामिल होने वाले लोग ते’जी से सं’क्रमित पाए जा रहे हैं. अब तक इस शादी समारोह में शामिल हुए 369 लोगों की जांच हो चुकी है. जिनमें से 89 संक्र’मित पाये गये हैं जबकि 31 लोग पहले ही पॉज़िटिव पाए गए थे. पटना के पालीगंज में हुए इस शादी समारोह में दूल्हे की मौ’त शादी के अगले दिन ही हो गई थी. जिसके बाद अब मामला ये सामुदायिक सं’क्रमण रूप लेता नजर आ रहा है.

ज़िला प्रशासन के अनुसार शादी 15 जून को हुई थी और अगले ही दिन दूल्हे की मौ’त हो गई थी. शादी में शामिल हुए कुछ लोगों में कोरो’ना के लक्षणों की शि’का’य’त थी जिसके बाद बारातियों का ग्रुप सैंप’ल लिया गया, जहां 9 लोग सं’क्र’मित पाए गए. इसके बाद कुछ और लोगों के सं’क्र’मित होने की जानकारी मिली. स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि चार चरणों में अब तक 369 लोगों के सैं’पल लिए जा चुके हैं.

परिवार के मुताबिक दूल्हा शादी से पहले गाड़ी के जरिए दिल्ली से बिहार आया था. बिहार पहुंचने के बाद वह कुछ दिनों तक आइसोलेशन में भी रहा था. परिवार का कहना है कि शादी से पहले कोरो’ना के कुछ ल’क्षण नजर आने लगे थे.

शादी के अगले दिन ही उसकी मौ’त हो गई. अं’तिम सं’स्कार में शामिल हुए इलाके के स्थानी’य दुकानदार, सब्जी विक्रेता और हलवाई की रिपोर्ट भी को’रो’ना पॉजि’टिव है, जिसके बाद प्रशासन की चिं’ता ब’ढ़ी हुई है.

पु’लिस सूत्रों के अनुसार 30 साल का दूल्हा 12 मई को शादी के लिए अपने गांव दीहपाली पहुंचा था। इस दौरान उसके अंदर को’विड-19 के ल’क्षण पन’पने लगे लेकिन उसके परिवार ने शादी को न टालने का फैसला लिया। शादी के दो दिन बाद उसकी हालत बि’गड़ गई और पटना ए’म्स ले जाते समय उसकी मौ’त हो गई।

जिला प्रशासन को जब 30 साल के दूल्हे की मौ’त के बारे में पता चला तो उन्होंने शादी में शरीक हुए सभी मेह’मानों का कोरो’ना परी’क्षण कराया। जहां 95 लोगों की रिपो’र्ट पॉजि’टिव आई है वहीं दुल्हन निगेटिव मिली है। प्रशासन का कहना है कि कोविड-19 के लक्ष’ण दिखने के बावजूद शादी करना परिवार द्वारा दिशा’निर्दे’शों का बड़े पैमाने पर किया गया उ’ल्लं’घन है।