बढ़ते कोरोना के बीच ममता बनर्जी ने चु’नाव आयोग से की ये मांग, चार चरणों के चु’नाव…

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने चु’नाव आयोग (Election Commission) से कहा है बढ़ते कोरोना को देखते हुए बचे चार चरणों के चु’नाव एक साथ करा लिए जाएं. ममता बनर्जी का यह सुझाव ऐसे वक्त आया है, जब कोरोना के बढ़ते मा’मलों को देखते हुए बंगाल के चु’नाव आयोग ने एक सर्वदलीय बैठक बुलाई है.

जिसमें बाकी बचे चरणों के चु’नाव को लेकर सभी पार्टियों की राय जानी जाएगी. बंगाल में चौथे चरण के चु’नाव में हिंसा भी देखने को मिली थी, जिसमें 5 लोगों की मौ’त हो गई थी. तृणमूल कांग्रेस ने इसको लेकर चु’नाव आयोग और सुरक्षा ब’लों पर ही आरो’प लगाए थे.

हालांकि चु’नाव आय़ोग (EC) ने पहले स्पष्ट कह दिया है कि बाकी चरणों के विधानसभा चु’नाव को एक साथ कराना संभव नहीं है. इस मा’मले को लेकर ऊहापोह उसने ख’त्म कर दिया है. तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी (Bengal Chief Minister Mamata Banerjee ) ने बंगाल में कोरोना के बढ़ते मा’मलों के लिए भी बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया है.

ममता बनर्जी ने गुरुवार शाम को ट्वीट कर कहा, महामा’री को देखते हुए हमने चु’नाव आयोग से विधानसभा चु’नाव आठ चरणों में कराने का क’ड़ा विरो’ध किया था. अब जब बंगाल में कोरोना के मा’मले बेतहाशा तरीके से बढ़ रहे हैं तो चु’नाव आयोग से यह गु’जारिश है कि बाकी चरणों के चु’नाव को एक साथ ही नि’पटा दिया जाए. यह लोगों को कोरोना के जो’खिम से बचाएगा और सं’क्रमण को भी कम किया जा सकेगा.

गौरतलब है कि चु’नाव आयोग ने पश्चिम बंगाल के लिए आठ चरणों में विधानसभा चु’नाव कराने का ऐलान किया था. बाकी चार राज्यों तमिलनाडु, केरल, पुदुच्चेरी और असम में विधानसभा चु’नाव 6 अप्रैल को ही संपन्न हो गया था. बंगाल में कोरोना के लगातार मा’मले बढ़ते जा रहे हैं और रोजाना यह संख्या 6 हजार के करीब पहुंच गई है. कोलकाता हाईकोर्ट ने भी बंगाल की चु’नावी रैलियों में सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क पहनने जैसे कोरोना के बुनियादी मानकों की उ’ड़ती ध’ज्जियों पर ग’हरी नारा’जगी जताई थी.