किसान आंदोलन के बीच असम से अमित शाह का आया बड़ा बयान, कहा- हल खोजने के लिए सरकार…

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह दो दिन के असम दौरे पर हैं। असम के कामरूप से उन्होने एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि कुछ लोग कृषि क्षेत्र में सुधारों का विरो’ध कर रहे हैं।

मैं उनसे अपील करना चाहूंगा कि वे आगे आएं और इसका हल खोजने के लिए सरकार के साथ चर्चा करें। इसके अलावा अमित शाह ने कहा कि मोदी के नेतृत्व में पूर्वोत्तर देश के विकास का इंजन बनकर उभरा है।

गृह मंत्री ने कहा कि राज्य के सभी उ’ग्रवादी सं’गठनों ने आ’त्मसमर्पण कर दिया है और मुख्यधारा में लौट आए हैं। उन्होंने नये कृषि कानूनों के खि’लाफ प्रदर्श’न कर रहे किसानों से भी बातचीत के जरिये मु’द्दों का समाधान निकालने का अनुरो’ध किया।

शाह ने कहा कि मोदी पूर्वोत्तर को देश के विकास का केंद्रंिबदु मानते हैं और वह ‘‘पिछले छह साल में 30 बार क्षेत्र का दौरा कर चुके हैं और हर बार वह कोई तोहफा लेकर आए हैं।’’

अनेक विकास परियोजनाओं को शुरू करने के लिए आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि असम, मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल और वित्त मंत्री हिमंत बिस्व शर्मा के नेतृत्व में शांति और विकास की यात्रा पर चल रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘पूर्वी भारत में कभी आं’दोलन और हिं’सा हुआ करती थी। अलग-अलग समूह हाथ में हथियार लिये दिखते थे, आज वो सारे मुख्यधारा के साथ जुड़े दिखते हैं।

एक बहुत बड़े परिवर्तन की शुरुआत नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में हुई है।’ शाह ने कहा कि हा’ल ही में संपन्न बोडोलैंड क्षेत्रीय परिषद के चुनावों में राजग की जीत विधानसभा चु’नावों से पहले सेमीफाइनल की तरह है। उन्होंने कहा कि असम विधानसभा चु’नाव में राजग भारी बहुमत से जीतेगा।

शाह ने कहा “मुझे आज बहुत आनंद है कि श्रीमंत शंकरदेव का जो जन्मस्थान था, वो घु’सपै’ठियों ने क’ब्जाया हुआ था। उसे खाली करके आज शंकर देव की महान स्मृति को चीर काल तक स्थायी करने का काम हेमंत बिस्वा शर्मा और हमारे मुख्यमंत्री जी करने जा रहे हैं।”

उन्होने कहा “मोदी जी ने पूर्वाेत्तर के विकास को केंद्र में रखकर 6 साल तक सरकार चलाई है, आगे भी हमारी सरकार पूर्वाेत्तर की सेवा करती रहेगी। 5 साल में कभी-कभी कोई प्रधानमंत्री पूर्वाेत्तर आ जाए तो आए जाए, मोदी जी ने 6 साल में 30 बार पूर्वाेत्तर का दौरा किया और हर बार तोहफा लेकर आए।”

अमित शाह ने कहा “असम की सबसे बड़ी समस्या दो ही हैं, घु’सपै’ठ और बाढ़। कांग्रेस और बाकी दल क्या घु’सपै’ठ रो’क सकते हैं? घुसपैठ नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा सरकार ही रो’क सकती है।”