एयर इंडिया का बड़ा फ़ैसला : 48 पायलटों को एयर इंडिया ने रातोंरात किया बर्खास्त

एयर इंडिया पहले से ही घा’टे में चल रही थी, इस बीच कोरो’ना महा’मा’री ने हाला’त और बिगा’ड़ दिए। जिस वजह से एयर इंडिया कर्मचारियों की छंटनी कर रही है। साथ ही कई देशों में अपने ऑफिस को भी बंद कर दिया है। अब एयर इंडिया से 48 पायलटों को रातोंरात बर्खा’स्त किए जाने की खबर सामने आई है। जिस पर पायलट यूनियन ने एत’राज जताया है। साथ ही सीएमडी और नागरिक उड्डयन मंत्री को पत्र लिखा है।

जानकारी के मुताबिक पिछले साल इन पायलटों ने इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद कंपनी के नियमानुसार उन्होंने 6 महीने के अंदर अपना इस्तीफा वापस ले लिया। जिस पर कंपनी ने उनके इस्तीफे की वापसी वाले प्रस्ताव को स्वीकर कर लिया और उनकी सेवाएं जारी रखीं, लेकिन अब उनको अचा’नक से बर्खा’स्त कर दिया गया। कंपनी के आदेश के मुताबिक बर्खास्त पायलटों की सेवाएं 13 अगस्त 2020 से समाप्त कर दी गई हैं।

कंपनी रातोंरात ऐसा फैसला लेगी ये किसी भी कर्मचारी को पता नहीं था। कुछ पायलट तो ऐसे थे, जिन्हें नौकरी जाने की खबर ही नहीं थी। जब वो एयरपोर्ट पर ड्यूटी के लिए पहुंचे तो साथी कर्मचारियों ने उन्हें इस बात की जानकारी दी। एयर इंडिया के इस फैसले पर पायलट यूनियन ने ना’राजगी जताई है। साथ ही सीएमडी और नागरिक उड्डयन मंत्रालय को पत्र लिखा है।

आपको बता दें कि इससे पहले एयर इंडिया ने मिलान (इटली), स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम, डेनमार्क की राजधानी कोपनहेगन, स्पेन की राजधानी मैड्रिड और वियाना में अपने ऑफिस बंद करने का फैसला लिया था। कंपनी के मुताबिक कोरो’ना संक’ट में यात्रियों की कमी और कई महीनों तक एयर सर्विस पर संक’ट की आशं’का के बाद मैनेजमेंट ने इन पांच जगहों पर ऑफिस बंद करने का फैसला किया। कंपनी पहले भी अपने कुछ स्टाफ को बिना सैलरी के पांच साल तक जब’रन छुट्टी पर भेजने की बात कह चुकी है।