राजस्थान के लोकल चु’नाव में हार के बाद कांग्रेस ने BJP को दी पटखनी, नगर निकायों में भाजपा को बड़ा झ’टका

पिछले हफ़्ते ही राजस्थान के लोकल चु’नाव में कांग्रेस भाजपा से पिछड़ गई थी लेकिन इस हफ़्ते पार्टी ने हिसाब बराबर कर लिया है. कांग्रेस के लिए निकाय चुनाव से एक बड़ी ख़बर है.

ख़बर है कि राजस्थान के 12 जिलों के 50 नगर निकायों में 1775 वार्डों में कांग्रेस के 620, भाजपा के 548, बसपा के सात, भाकपा के दो, माकपा के दो, आरएलपी के एक उम्मीदवारों के साथ ही 595 निर्दलीय प्रत्याशियों ने जीत हासिल की. इसके साथ ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की साख भी ब’च गई है.

राज्य निर्वाचन आयोग ने प्रदेश के 12 जिलों की 50 नगर निकायों (43 नगर पालिका और 7 नगर परिषद) में सदस्य पदों के लिए हुए आम चुनाव का परिणाम रविवार को जारी कर दिया. राज्य निर्वाचन आयोग के आयुक्त पीएस मेहरा ने बताया कि सभी निकायों के 1775 वार्डों में से कांग्रेस के 620, भाजपा के 548, बसपा के सात, भाकपा के दो, माकपा के दो, आरएलपी के एक और 595 निर्दलीय प्रत्याशियों ने जीत हासिल की. मेहरा ने बताया कि अध्यक्ष पद के लिए सोमवार को लोक सूचना जारी होगी. नामांकन पत्र मंगलवार तीन बजे तक प्रस्तुत किए जा सकेंगे.

उन्होंने बताया कि नामांकन पत्रों की संवीक्षा की तिथि बुधवार को होगी, जबकि बृहस्पतिवार को तीन बजे तक अभ्यर्थिता वापिस ली जा सकेगी. उन्होंने बताया कि चु’नाव चिन्हों का आवंटन 17 दिसंबर को नाम वापसी के समय समाप्ति के तुरंत बाद किया जाएगा. अध्यक्ष के लिए मतदान 20 दिसंबर को प्रातः 10 बजे से अपराह्न 2 बजे तक किया जाएगा, जबकि मतगणना मतदान समाप्ति के तुरन्त बाद होगी. उन्होंने बताया कि इसी तरह उपाध्यक्ष के लिए निर्वाचन 21 दिसंबर को होगा।